हरदीबाजार पुलिस की निजात अभियान के तहत नशे के सौदागरों के खिलाफ लगातार कार्यवाही जारी

कोरबा।पुलिस अधीक्षक कोरबा संतोष सिंह (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोरबा अभिषेक वर्मा (रा.पु.से.), नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रोबिनसन गुड़िया (भा.पु.से.) द्वारा निजात अभियान के तहत गांजा, नशीली दवाइयों व अवैध शराब पर प्रभावी कार्यवाही करने निर्देशित किया गया है। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चौकी हरदीबाजार क्षेत्र में से नशीली दवाईयो की बिक्री करने वालों पर कार्यवाही की जा रही है।

मिली जानकारी के तहत 06 नवंबर को जरिये मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई कि एक काले रंग की सोल्ड पल्सर मोटर सायकल में 03 व्यक्ति नशीली टेबलेट रखकर बिक्री करने के लिए कुसमुण्डा से हरदीबाजार होते हुए पाली की ओर जाने वाले हैं।

सूचना पर हमराह स्टॉफ एवं गवाह को साथ लेकर ग्राम रलिया नर्सरी के पास मेन रोड पर जाकर नाकेबंदी कर घेराबंदी किया गया कुछ देर पष्चात् ग्राम रलिया की ओर से एक बजाज पल्सर सोल्ड मोटर सायकल में 03 लोग आते दिखे जिन्हे रोकने पर मोटर सायकल से एक व्यक्ति घनी झाड़ियों का फायदा उठाकर पुलिस को देखकर मोटर सायकल व अपने दोनों साथी को छोड़कर नर्सरी की ओर भाग गया।

दो व्यक्तियों को दौड़ाकर पकड़ा गया जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमषः 01. विमल सागर पिता स्व. सीमांचल सागर उम्र 23 वर्ष निवासी एम 1093 चुनचुनी कालोनी थाना कुसमुण्डा जिला कोरबा तथा 02. दीपक आर्मो पिता स्व. बाला सिंह आर्मो उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम सीस थाना रतनपुर जिला बिलासपुर बताये हैं।

भागने वाले व्यक्ति का नाम प्रकाश साहनी निवासी कुसमुण्डा बताये। जिनके मोटर सायकल बजाज पल्सर सोल्ड की तलाशी लेने पर मोटर सायकल के सीट के नीचे से कुल 54 स्ट्रीप spasx plus tablet जिसमें प्रत्येक में 08-08 नग नशीली टेबलेट कुल 432 नग नशीली टेबलेट मिली, उक्त नषीली टेबलेट एवं सोल्ड पलसर मोटसर सायकल को आरोपियों के कब्जे से बरामद किया गया।

आरोपियों का कृत्य धारा सदर 21, 22 एनडीपीएस एक्ट का अपराध घटित करना पाये जाने से आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 596/2022 धारा 21, 22 एनडीपीएस एक्ट कायम कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायायिक हिरासत में भेजा गया। प्रकरण के फरार आरोपी का तलाश किया जा रहा है। उपरोक्त कार्यवाही में उप निरीक्षक मयंक मिश्रा चौकी प्रभारी हरदीबाजार, सउनि. विजय सिंह,प्र आर ओमप्रकाश डिकसेना,आरक्षक संजय चन्द्रा,आरक्षक प्रवीण राजवाड़े, आरक्षक कमल कैवर्त, आरक्षक गौतम पटेल, आरक्षक गौकरण श्याम का महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *