सहकारी समिति कर्मचारी संघ ने सरकार के अनुबंध पत्र की प्रतियां धरना स्थल पर जलाकर-कर्मचारी विरोधी आदेश का विरोध किया

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य के सहकारी समितियों में कार्यरत् सभी संवर्गो के कर्मचारियों ने अपनी 5 सूत्रीय मांगों की ओर शासन का ध्यानआृष्ट करने हेतु 8 नवंबर से अनिश्चितकालिन आंदोलन कर राजधानी के बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल पर धरनारत् है। प्रदेश के सहकारिता विभाग के कर्मचाारी अधिकारी समिति प्रबंधक, डाटा एट्री आपरेटर, लिपिक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी सरकार के वादा खिलाफी के खिलाफ आंदोलन के 8 वें दिन देवउठनी एकादशी का पूजन धरना स्थल पर किया। इसके पूर्व धरना स्थल पर छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संध के प्रांताध्यक्ष विजय कुमार झा एवं सहकारी समिति कर्मचार संध के प्रांताध्यक्ष ईश्वरी साहू के नेतृत्व में हजारों कर्मचारियों ने शासन द्वारा धान खरीदी के अनुबंध का प्रतिकार करते हुए उसकी प्रतियां धरना स्थल पर जलाया गया।
संघ के प्रांताध्यक्ष ईश्वरी साहू एवं प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संध प्रांताध्यक्ष विजय कुमार झा ने बताया है कि राज्य शासन ने अच्छी क्वालिटी के धान की खरीदी करने हेतु प्रदेश के समितियों से अनुबंध पत्र भराकर धान खरीदी प्रारंभ करने की कार्यवाही कर रही है। अनुबंध पत्र अनुसार 72 धण्टे में सूखत धान क्रय किया जाना है, किंतु सरकार 72 दिनों कें भी धान क्रय नहीं कर पाई है। अनुबंध अनुसार 17 लाख क्विंटल धान सूखत में खराब हो चुका है, जो सीधे सीधे सोसायटी व सरकार की आर्थिैक क्षति है।

आंदोलन को तृतीय वर्ग कर्मचारी संध प्रदेशाध्यक्ष ने संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बधेल से मांग की है कि सहकारी समिति कर्मचारियों का वादा के अनुरूप तत्काल नियमितीकरण किया जाना चाहिए। सरकार केवल ‘‘ह‘‘ के स्थान पर ‘‘र‘‘ कर दें तो सारी समस्या का निदान हो जावेगा, अर्थात ‘‘सहकारी‘‘ के स्थान पर ‘‘सरकारी‘‘ करना चाहिए। प्रदेश में ऐसा प्रयोग हो चुका है। शराब विक्रय व्यवस्था का निजी से सरकारी किया जा सकता है, तो सहकारी समिति के कर्मचारियों का सरकारीकरण क्यों नहीं हो सकता है। इससेप्रदेश के किसानों को भी आर्थिक क्षति का सामना करना पड़ेगा। वर्तमान् धान खरीदी में काॅकन धान को 1868/- रू.प्रति क्विंटल, सरना धान 1868/-रू. प्रति क्ंविटल, ‘ए‘ ग्रेड धान की खरीदी 1888/-रू. प्रति क्विंटल दर निर्धारित किया गया है। आज मंगलवार को सरकार को सद्बुद्वि प्रदान करने हेतु सुंदरकाण्ड का पाठ हड़ताली सहकारी समिति संध के सदस्य करेगें। आज सोमवार देवउठनी एकादशी के दिन सहकारी समिति के कर्मचारी प्रांताध्यक्ष ईश्वरी साहू, नरेन्द्र साहू महासचिव, ईश्वर श्रीवास संयुक्त सचिव, भाई लाल देवाॅगन संग्ठन सचिव, मनीराम केवट संगठन मंत्री, के नेतृत्व में धरना स्थल पर धरनारत् थे। मंगलवार को भी प्रातः 11 बजे सभी समिति सदस्य बूढ़ातालाब धरना स्थल पर उपस्थित होगें। जब तक 5 सूत्रीय मंागें पूरी नहीं की जाती है, धान खरीदी का बहिष्कार कर अनिश्चितकालिन धरना बूढ़ातालाब में अनवरत् जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *