इंडिया वाल

COVID 19: अलर्ट पर राज्य सरकारें, जीनोम सीक्वेंसिंग और टेस्टिंग पर फोकस

COVID 19:भारत में ओमिक्रोन (Omicron) के सब वेरिएंट BF.7 के चार मामले अभी तक सामने आ चुके हैं. दो केस गुजरात (Gujarat) और दो केस ओडिशा (Odisha) से सामने आए हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो चीन में कोरोना वायरस के मामलों में हुई वृद्धि के लिए BF.7 वेरिएंट ही जिम्मेदार है. हालांकि, भारत में स्थिति अभी तक नियंत्रण में नजर आ रही है.

  • गुरुवार को कोरोना वायरस की स्थिति के मद्देनजर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने हाई लेवल मीटिंग की. वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया और नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण, गृह सचिव अजय कुमार भल्ला, नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी परमेश्वरन अय्यर सहित स्वास्थ्य व गृह मंत्रालय के कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए.
  • प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक मोदी ने अधिकारियों से किसी भी तरह की लापरवाही ना बरतने को लेकर आगाह किया और कोरोना मामलों की कड़ी निगरानी की सलाह दी. पीएमओ के मुताबिक मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है. उन्होंने अधिकारियों को विशेष रूप से अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डों पर चल रहे निगरानी उपायों को मजबूत करने का निर्देश दिया.
  • प्रधानमंत्री ने सभी से हर समय कोविड के उपयुक्त व्यवहार का पालन करने का आग्रह किया, विशेष रूप से आगामी त्योहारी मौसम को देखते हुए, जिसमें भीड़-भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना भी शामिल है.
  • कोरोना पर हुई हाई लेवल मीटिंग से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने राज्यसभा में कहा, “हमने कोविड पर कोई राजनीति नहीं की है. देश भर के बड़े अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाए गए हैं और चलाए जा रहे हैं. हमने देश में दवाओं की पर्याप्त मात्रा की भी समीक्षा की है.” 
  • मनसुख मंडाविया ने राज्यसभा में नेजल वैक्सीन को लेकर भी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि गुरुवार को ही एक्सपर्ट्स के पैनल ने नेजल वैक्सीन को मंजूरी दे दी है. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में किसी भी व्यक्ति को इंजेक्शन की जरूरत नहीं होगी और बस नाक में ड्रॉप डालो और फायदा हो जाएगा.
  • केंद्र सरकार ने कोरोना को लेकर राज्य सरकारों को भी अलर्ट कर दिया है. इसी कड़ी में गुरुवार को कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने कहा कि राज्य सरकार जांच बढ़ाएगी और कोविड-19 के नए मामलों के सभी नमूनों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए प्रयोगशाला में भेजेगी. उन्होंने कहा, “हम जांच बढ़ाने जा रहे हैं. नए वेरिएंट बीएफ.7 कुछ राज्यों में पाया गया है. हम उस पर नजर रखेंगे, क्योंकि जब वह भारत में आ गया है तो ऐसी आशंका है कि वह कर्नाटक में भी आएगा.”
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी गुरुवार को कोरोना को लेकर एक आपात बैठक की. बैठक के बाद उन्होंने मीडिया से बात की और कहा कि चीन और कई अन्य देशों में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं. इसका BF.7 वेरिएंट है. हमारे पास दिल्ली में उस वेरिएंट का एक भी मामला नहीं है, इसलिए चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. हम जीनोम सीक्वेंसिंग कर रहे हैं. अभी दिल्ली में XBB वेरिएंट के मामले आ रहे हैं.
  • बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी कोरोना को लेकर सजग दिखाईं दीं. उन्होंने कहा कि हमने इसे (कोरोना वायरस) लेकर बैठक भी की थी, कमिटी गठित है जो निगरानी रख रही है. उन्होंने कहा, “अभी बंगाल में घबराने की स्थिति नहीं है, लेकिन हम मॉनिटर कर रहे हैं, लोगों से सतर्क रहने की अपील है.”
  • बीएफ.7 के वेरिएंट बीए.5 का सब वेरिएंट है और इसमें संक्रमण की व्यापक क्षमता होती है और इसकी इनक्यूबेशन अवधि कम होती है. सब वेरिएंट BF.7 की सबसे खतरनाक बात ये भी है कि ये उन लोगों को भी संक्रमित करने की क्षमता रखता है, जिन्हें कोरोना की वैक्सीन लग चुकी है.
  • भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 131 नए मामले सामने आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,46,76,330 पर पहुंच गई है. वहीं देश में इस समय एक्टिव मरीजों की संख्या 3,408 है. वहीं पिछले 24 घंटे में पश्चिम बंगाल में संक्रमण से एक और मरीज की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 5,30,680 हो गई है. आंकड़ों के अनुसार, भारत में मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.80 प्रतिशत है. देश में अभी तक कुल 4,41,42,242 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि कोविड-19 से मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है.
बिलासपुर में कोरोना विस्फोट..1 दिन में 13 पाजीटिव...70 का बुजुर्ग और 3 साल की बच्ची भी संक्रमित..4 एम्स और 9 मरीज कोविड अस्पताल में भर्ती

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS