करीब 8 करोड़ कीमत की जाली नोट बरामद..मुख्य आरोपी आरकेएम प्लाट का इंजीनियर..तीन अन्य गिरफ्तार

जांजगीर चाम्पा–ओडिशा के कोरापुट में पुलिस जांच पड़ताल के दौरान रायपुर पासिंग कार से करोड़ों रूपए का जाली नोट बरामद किया गया है। पुलिस ने तीन प्रमुख आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए तीनों आरोपी जांजगीर चांपा के रहने वाले हैं। तीनों ने मिलकर रायपुर स्थित एक किराए के मकान में नकली नोटों की छपाई की है।
  
                    ओडिशा में पुलिस जांच पड़ताल के दौरान रायपुर पासिंग कार से 7 करोड 90 लाख रूपए जाली नोट बरामद किया है। पूछताछ के दौरान मामला सामने आया है कि पकड़े गए 500-500 के सभी नोटों की छपाई का काम रायपुर में स्थित किराए के एक मकान में किया गया है। मुख्य आरोपी समेत अन्य दो लोग आरकेएम पावर प्लांट में काम करते हैं। 
 
                         जानकारी के अनुसार नोटों की छपाई डभरा स्थित आरकेएम पॉवर प्लांट इंजीनियर की मार्गदर्शन में किया गया। मुख्य आरोपी इंजीनियर के ही मार्गदर्शन में सात करोड़ 90 लाख रूपए ना केवल छापा गया। बल्कि ओडिशा भी भेजा गया है। 
 
                             मामले में अब तक चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इसमें तीन आरोपी जांजगीर जिले के रहने वाले हैं। मुख्य आरोपी का नाम रविन्द्र मनहर डभरा क्षेत्र के आरकेएम पॉवर प्लांट में इंजीनियर है। इसके अलावा तीन अन्य आरोपियों को भी पकड़ा गया है। जिसमें दो आरकेएम पॉवर प्लांट में काम करते हैं। 
 
          जांजगीर पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने बताया कि कि मुख्य रविन्द्र कुमार मनहर अमरताल अकलतरा का रहने वाला है। जबकि दोअ्य आरोपियों में हर कुमार साहू पिता स्वर्गीय काशी राम साहू हसौद का निवासी है। मनहरण लहरे पिता पतिराम लहरे भरोरा का रहने वाला है। जबकि चौथा आरोपी विजय कुमार वर्मन पिता दूतेराम वर्मन अटल नगर रायपुर का निवासी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *