मेरा बिलासपुर

क्रिकेट कोच ने किया 61 लाख की ठगी…बच्चों को दिया भारतीय टीम में सलेक्शन का वादा…थमा दिया फर्जी प्रमाण पत्र

आरोपी ने क्रिकेट खेलने वाले बच्चों से किया 61 लाख रूपयों की ठगी

बिलासपुर—क्रिकेट टीम में सलेक्शन का झांसा देकर 61 लाख से अधिक रूपयों  की ठगी का आरोपी प्राइम क्रिकेट एकेदमी के कोच को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामले में राखी खन्ना ने शिकायत दर्ज करायी थी। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी कोच सन्नी दुआ को गिरफ्तार न्यायिक रिमाण्ड में भेजकर जेल दाखिल कराया है। छानबीन के दौरान पुलिस को जानकारी मिली है कि आरोपी ने कई क्रिकेट खेलने वाले बच्चों के खिलाफ करीब 61 लाख रूपयों से अधिक की ठगी को अंजाम दिया है।
        पुलिस के अनुसार राखी खन्ना ने तोरवा थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि उनका बेटा आकाश खन्ना प्राइम क्रिकेट एकादमी में क्रिकेट कोचिंग लेने जाता है। इसी दौरान संस्थान के कोच सन्नी दुआ ने बेटे से कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम में सलेक्शन करवा सकता है। उसने झांसा देकर 1 लाख 67 हजार 800 रुपये ठगी को अंजाम दिया।
 राखी खन्ना ने बताया कि कोच सन्नी दुआ ने इसी तरह कई औऱ लोगो से कुल 61 लाख रुपये लेकर बीसीसीआई और छतीसगढ़ क्रिकेट संघ का फर्जी सलेक्शन लैटर थमाया है। आरोपी ने बच्चों को मलेशिया में आयोजित क्रिकेट टूर्नामेंट में सलेक्शन का भी फर्जी प्रमाण पत्र दिया है।
         मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने कार्रवाई और छानबीन का निर्देश दिया। आरोपी क्रिकेट कोच सन्नी दुआ के खिलाफ  आईपीसी की धारा 420,467,468 का दर्ज किया गया। एडीशनल एसपी सिटी राजेंद्र जायसवाल के निर्देश सीएसपी आईपीएस पूजा कुमार के मार्गदर्शन में आरोपी सन्नी दुआ को गिरफ्तार किया गया है।
           आरोपी के खिलाफ़ उत्तरप्रदेश के लखनऊ जिले के ग्रामीण थाने में भी 22 अगस्त 2019 को  ठगी का एफआईआर दर्ज कर उसे जेल भेजा गया था। सन्नी का चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था। आरोपी अभी जमानत पर है। आरोपी सन्नी दुआ को तोरवा थाना पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल कराया है।
पुलिस के अनुसार आरोपी सन्नी दुआ पिता स्व.प्रेम प्रकाश दुआ प्रियदर्शनी नगर थाना सिविल लाईन का रहने  वाला है।
One attachment • Scanned by Gmail

सिम्स प्रबंधन का खतरनाक खेल...अपोलो से लेकर आओ बच्ची...शिफ्टिंग में गड़बड़ी तो खुद होगे जिम्मेदार
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS