अखिल भारतीय शिक्षा समागम में शामिल हुए सीयू के कुलपति प्रो.चक्रवाल

बिलासपुर। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय (केन्द्रीय विश्वविद्यालय) के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल वाराणसी में 7 से 9 जुलाई तक आयोजित अखिल भारतीय शिक्षा समागम- राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 क्रियान्वयन विमर्श में शामिल हुए। वाराणसी के रुद्राक्ष कन्वेशन सेंटर में आयोजित इस तीन दिवसीय कार्यक्रम के उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रहे।
कार्यक्रम का प्रारंभ सरस्वती वंदना से हुआ जिसके पश्चात केन्द्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने स्वागत उद्बोधन प्रस्तुत किया। तत्पश्चात उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर अपने विचार प्रस्तुत किये। मंचस्थ अतिथियों में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती अंनदी बेन पटेल, केन्द्रीय शिक्षा राज्य मंत्रा एवं उत्तर प्रदेश राज्य के शिक्षा मंत्री, तकनीकी शिक्षा मंत्री एवं राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 की ड्राफ्टिंग कमेटी के चेयरमेन डॉ. के. कस्तुरीरंगन उपस्थित रहे।
उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हम आजादी के अमृत महोत्सव का वर्ष मना रहे है। विद्या हमें अमृत्व तक लेकर जाती है। शिक्षा से शोध तथा विद्या से बोध होता है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के माध्यम से युवा आत्मनिर्भर बनेगा। युवाओं के सपनों को प्रोत्साहित करना हमारी जिम्मेदारी है।
अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में भारतीय उच्च शिक्षा संस्थान अपना स्थान बना रहे हैं। हमें युवाओं को शोध एवं नवाचार के लिए प्रेरित करना होगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 शिक्षा को संकुचित दायरे से बाहर निकालकर आधुनिक विचारों से जोड़ती है। हमारे उच्च शिक्षण संस्थानों को अपने शोध परिणामों को प्रमाण के साथ प्रस्तुत करना होगा ताकि दुनिया में हमारे शोध की साख में वृद्धि हो।
इस आयोजन के उद्घाटन समारोह का प्रसारण विश्वविद्यालय के विभिन्न स्थानों जिनमें प्रशासनिक भवन के सभाकक्ष, लाइब्रेरी व न्यू आईटी भवन में किया गया था। कार्यक्रम में देशभर के केन्द्रीय एवं राज्य उच्च शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों के साथ देशभर के शिक्षाविद शामिल हुए। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थान के प्रमुख राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन के संबंध में गहन मंथन क

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *