DA की मांगः शुक्रवार को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे छत्तीसगढ़ के सभी कर्मचारी, रैली के साथ धरना स्थल पहुंचेंगे तृतीय वर्ग कर्मचारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के आव्हान पर शुक्रवार 3 सितंबर को प्रदेश के समस्त अधिकारी कर्मचारी प्रांतव्यापी सामूहिक अवकाश लेकर जिला तहसील विकासखण्डों में धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौपेगें। शुक्रवार के इस आंदोलन से शासन स्कूल शिक्षा विभाग की परीक्षाओं की तिथियां बढ़ गई है। जिला शिक्षा अधिकारी, जिला परियोजना समग्र शिक्षा द्वारा बेस लाइन आंकलन समय सारिणी की तिथीयों में परिवर्तन कर दिया गया है। आंदोलन में प्रदेश के समस्त जिलों के शासकीय सेवकों ने अपने अपने कार्यालय में अवकाश आवेदन पत्र जमा कर, कार्यालय की चाबी व वाहनों के चाबी अधिकारियों को सौप दिए। इसी प्रकार मंत्रालय संचालनालय के अधिकारी कर्मचारी भी अवकाश आवेदन प्रस्तुत कर दिए है।
छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के संयोजक कमल वर्मा एवं प्रमुख प्रवक्ता विजय कुमार झा, ने बताया है कि ‘‘कलम रख-काम बंद आंदोलन‘‘ के तहत 28 प्रतिशत् लंबित मंहगाई भत्ता, वेतन विसंगति सहित 14 सूत्रीय मांगों की ओर शासन का ध्यान आकृष्ट करने हेतु एक दिवसीय सामूहिक अवकाश आंदोलन में छग.लधु वेतन चतुर्थ वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष बिन्देश्वर राम रौतिया, वाहन चालक संघ अध्यक्ष मनीष ठाकुर के नेतृत्व में कार्यालयों की चाबी व वाहनों की चाबी कार्यालय में जमा कराये गए। इसके अतिरिक्त रविशंकर विश्वविद्यालय के 300 कर्मचारी व 90 शिक्षकों ने अवकाश आवेदन रजिस्ट्रार को सौपकर आंदोलन में शामिल होने की सूचना दी है। इसी प्रकार नगर निगम रायपुर के समस्त कर्मचारी अधिकारियों ने आयुक्त नगर निगम को अवकाश आवेदन प्रस्तुत किए है। इस आंदोलन में प्रदेश के समस्त जिला, तहसील, विकास खण्डों के शासकीय सेवक जो विगत् 2 वर्षो से मंहगाई भत्ता से वंचित है, वे सभी अपने-अपने संगठन-झण्डा-डंडा का त्याग कर इस महायज्ञ में आहूत देने तत्पर है।

इस आंदोलन का समर्थन क्रांतिकारी कोरोना योद्वा संघ, छत्तीसगढ़ डाटा एट्री आपरेटर संघ, पर्यटन एवं संस्कृति विभाग, निगम मण्डल कर्मचारी महासंघ, छग.स्टेट सिविल सप्लाईज कारपोरेशन लि. कर्मचारी संघ, राज्य नगरीय प्रशासनिक सेवा संध, प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ, सहायक शिक्षक फेडरेशन, शारीरिक शिक्षा शिक्षक संघ, छग. क्रांतिकारी एवं एल.बी. संघ, शालेय प्रधान पाठक संघ, राज्य अभियोजन अधिकारी संघ, पंजीयक एवं मुद्रांक अधिकारी कर्मचारी संघ, राज्य उपभोक्ता निकाय प्रतिपोषण आयोग कर्मचाारी संघ, मानवाधिकारी आयोग कर्मचारी संघ, प्रदेश ग्राम पंचायत सचिव संघ, नगरीय निकाय कर्मचारी महासंघ ने करते हुए आंदोलन में भाग लेने की सूचना दी है।

आज राजधानी स्थित कार्यालयों में फेडरेशन के प्रमुख प्रवक्ता विजय कुमार झा, संभागीय संयोजक अजय तिवारी, महामंत्री उमेश मुदलियार, बी.पी.कुरील, सी.एल.दुबे, दिनेश मिश्रा, नरेश वाढ़ेर, नगर निगम में अजय वर्मा, संतोष पाण्डेय, महेन्द्र गढ़ेवाल, रमेश साहू के नेतृत्व में अवकाश आवेदन आयुक्त नगर निगम रायपुर को सौपा गया। लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग में सुरेन्द्र त्रिपाठी, आलोक जाधव, विक्रय क्रय विभाग में गौतम हाजरा, अक्की कश्यप, पिताम्बर ठाकुर, अमरेन्द्र झा, सिविल सप्लाइज में डी.एल.चैधरी, के नेतृत्व में अवकाश आवेदन पत्र प्रस्तुत किए गए। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में यशवंत वर्मा, ए.के.डोए, दीपक झा के नेतृत्व में नारेबाजी कर आवेदन भरवाएं गए। रविशंकर विश्व विद्यालय कर्मचारी संध अध्यक्ष श्रवण सिंह ठाकुर एवं महासचिव प्रदीप मिश्रा के साथ अवकाश आवेदन प्रस्तुत किए गए। पर्यटन एवं संस्कृति विभाग में डाॅ. अरूंधति परिहार, संजय झड़बड़े तथा स्वास्थ विभाग में संभागीय अध्यक्ष संजय शर्मा के नेतृत्व में आवेदन आवेदन प्रस्तुत किए गए। लधु वेतन कर्मचारी संध अध्यक्ष कौशल अग्रवाल के द्वारा जनसंपर्क किया गया।

छत्तीसगढ़ .प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संध व उनके सहयोगी संगठनों के सदस्य प्रातः 11 बजे ओ.सी.एम. चौक में एकत्र होकर इदरीश खाॅन, उमेश मुदलियार के नेतृत्व में रैली के रूप बूढ़ातालाब प्रस्थान करेगें। नगर निगम कर्मचारी मुख्यालय वाइट हाउस में एकत्र होकर इसी रैली में संतोष पाण्डेय, अजय वर्मा के नेतृत्व शामिल होकर बूढ़ातालाब कूच करेेंगें। शुक्रवार के धरना में अधिकाधिक संख्या में कर्मचारियों को शामिल होने की अपील संजय सिंग, बिन्देश्वर राम रौतिया, आर.के.रिछारिया, सचिव राजेश चटर्जी यशवंत वर्मा, सत्येन्द्र प्रवक्ता बी.पी.शर्मा, सतीश मिश्रा, पंकज पाण्डेय, चन्द्रशेखर तिवारी, राकेश शर्मा, अश्वनी चेलक, प्रशांत दुबे, नीरज प्रतापसिंह, अश्वनी वर्मा, डी.एस.भारद्वाज, आर.एन.ध्रुव, दिदेश रायकवार, सत्यदेव वर्मा, हरिमोहन सिंह, होरीलाल छेद्इया, एन.एच. खाॅन, दिलीप झा, रमेश ठाकुर, एम.एल.चन्द्राकर, आोंकार प्रसाद वर्मा, टार्जन गुप्ता, शंकर वराठे, श्रीमती रंजना ठाकुर, गोपाल प्रसाद साहू, हेमंत साहू, अतुल दुबे, हुमेश्वर जायसवाल, गंगाराम धींवर, रोमन लाल जायसवाल आदि नेताओं ने की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *