मां-बेटे की मिली लाश, तीन दिन से बंद था घर, बदबू आने पर पड़ोसियों को लगी भनक

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भोपाल।मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के शाजापुर में एक घर में मां-बेटे का शव मिला है. शाजापुर हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी स्थित दीनदयाल नगर में घर पिछले तीन दिनों से बंद था. तीन दिन बाद पड़ोसियों को बदबू आने लगी, जिस पर उन्हें किसी अनहोनी का शक हुआ. पड़ोसियों ने इस मामले की सूचना पुलिस (Police) को दी. मामले की जानकारी होने के बाद लालघाटी पुलिस मौके पर पहुंची. लालघाटी थाना प्रभारी ने घर को खुलवाया जहां मां-बेटे का शव पड़ा था.

जानकारी के मुताबिक हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के दीनदयाल नगर में संतोष बाई पति ललित सुरा ने जगदीश गोस्वामी का मकान तीन से चार महीने पहले ही खरीदा था. घर में संतोष बाई (70) अपने बेटे धर्मेन्द्र (50) के साथ रहती थी, जो लकवाग्रस्त था. शनिवार सुबह रहवासियो ने पुलिस को सूचना दी कि यह घर पिछले तीन-चार दिनों से बंद है और इसमें से बदबू आ रही है. घटना की सूचना मिलने के बाद लालघाटी थाना प्रभारी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस ने खिड़की से झांककर देखा तो वहां महिला की लाश पड़ी थी. इस पर पुलिस ने दरवाजा तोड़ दिया.

घर में वारदात के नहीं मिले निशान

पुलिस ने पूरे घर की तलाशी ली. जब वे लोग घर की तलाशी ले रहे थे तो बाथरूम में बेटे की लाश मिली. वहीं पूछताछ करने पर दूध वाले ने भी पुलिस को बताया कि वह तीन दिन से रोज दूध देने आ रहा है, लेकिन कोई दरवाजा नहीं खोल रहा है. पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि इस घर में मां-बेटे रहते थे. मां बुजुर्ग थी और बेटा लकवाग्रस्त था.

लालघाटी थाना प्रभारी केके चौबे ने बताया कि घर में किसी प्रकार के हाथापाई के निशान नहीं मिले हैं और न ही किसी तरह जबरन घुसने के सबूत हैं. किसी भी वारदात के निशाना भी नहीं मिली है. प्रथम दृष्टया दोनों की सामान्य मौत लग रही है. संभावना है कि बेटा बाथरूम में गया होगा और वहां गिरने से उसकी मौत हो गई और महिला भी बुजुर्ग महिला ने इस सदमें में बिस्तर पर दम तोड़ दिया. शवों का पंचनामा कर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

Back to top button
close