चोरी को अंजाम देकर भाग रहा था दिल्ली..मास्टर माइंड पेन्ड्रा स्टेशन से गिरफ्तार..लाखों का जेर जब्त

बिलासपुर—कोली पुलिस ने चोरी मामले में मास्टर माइंड को दिल्ली भागने से पहले ही धर दबोचा है। पुलिस ने आरोपी को पेण्ड्रारोड रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया है। चोरी मामले में मास्टर माइंड के साथ दो नाबालिगों को भी पकड़ा गया है। पकड़े गए आरोपी का नाम सुरेश पटेल उर्फ मुकेश उर्फ पान्तनु पिता गुहाराम पटेल है। आरोपी पटेल मोहल्ला, थाना तोरवा क्षेत्र का रहने वाला है।
आरोपी से बरामद चोरी का सामान
            पुलिस के अनुसार आरोपी से दो नग सोने का झुमका, 11 नग चांदी का पायल, सोने का हार, झाला एक नग, 8 नग सोने का मंगलसूत्र, एक नग सोने का टाप्स, दो नग टॉप्स, एक नग सोने की अंगुठी, एक जोड़ी सोने का बॉली, एक नग सोने का नथ, एक नग चांदी की बिछिया सेट बरामद हुआ है। बरामद सामान की कुल कीमत करीब दो लाख रुपयों से अधिक है।
                     कोनी पुलिस के अनुसार समृद्ध विहार सिन्दरी निवासी शैल हंस ने 9 जून को चोरी का रिपोर्ट दर्ज कराया। महिला ने बताया कि 8 जून की रात्रि से 9 जून की सुबह के बीच अज्ञात आरोपी ने घर में धावा बोला।  सोने चांदी के जेवर को पार कर दिया।
             अपराध दर्ज होने के बाद मामले को विवेचना में लिया गया। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए आलाधिकारियों के निर्देश पर टीम बनाकर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी शुरू हुई। इसी बीच जानकारी मिली कि श्रृंगार सिटी कालोनी में दो लड़के चोरी की नीयत से घूम रहे हैं। दोनों को मौके पर पहुंचकर पकड़ा गया।
             पूछताछ के दौरान एक नाबालिग ने बताया कि सुरेश पटेल उर्फ मुकेश उर्फ पान्तनु और एक नाबालिग के साथ मिलकर समृद्धि विहार में चोरी को अंजाम दिया है। चोरी के सोने चांदी के जेवर को आपस में बांटना भी कबूल किया।
                 नाबालिग बालक के बयान पर मास्टरमाइंड सुरेश पटेल उर्फ मुकेश उर्फ पान्तनु का तकनीकी सहायता से तलाश शुरू किया गया। सायबर से जानकारी मिली कि मास्टर माइंड ट्रेन से दिल्ली की तरफ जा रहा है। 
                 सूचना के बाद तत्काल पेण्ड्रोरोड़ रेलवे स्टेशन पुलिस टीम से सम्पर्क किया गया। घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ा गया। आरोपी से चोरी की सम्पत्ति सोने चांदी के जेवरात को बरामद किया गया। मुख्य आरोपी समेत दोनों नाबालिगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 457, 380, 34 का अपराध दर्ज कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *