कटघोरा को जिला बनाने की मांग…महाअभियान को अग्र बंधुओं ने दिया समर्थन..कहा..आदिवासी बहुल क्षेत्र से हमेशा हुआ अन्याय..दिया मांगपत्र

बिलासपुर—-जिला बनाओ महाभियान को  कटघोरा क्षेत्र के अग्रवाल समाज ने समर्थन किया है। अग्रवाल समाज के सम्मानित लोगों ने धरना स्थल पहुंचकर अनुविभागीय अधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम मांग पत्र दिया। साथ ही कटघोरा को जिला बनाए जाने के पक्ष में तर्क भी पेश किया। 
 
                  आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र और संभाग की सबसे पुरानी तहसील क्षेत्र कटघोरा को जिला बनाये जाने की मांग को लेकर जिला बनाओ महाअभियान के बैनर तले क्रमिक धरना प्रदर्शन 24 वें दिन से जारी रहा।  छिर्रा व्यवहार न्यायालय स्थित प्रदर्शन स्थल पहुंचकर बुधवार को अग्रवाल समाज के लोगो ने समर्थन दिया। साथ ही मुख्यमंत्री के नाम प्रशासन को ज्ञापन भी दिया है। 
 
          अग्रवाल सभा कटघोरा के सचिव अजय गर्ग ने बताया कि कटघोरा को जिला बनाने का अभियान धीरे धीरे जन आंदोलन का रूप ले लिया है। अधिवक्ता संघ कटघोरा की अगुवाई में क्रमिक धरना प्रदर्शन को लोग खुले दिल से समर्थन कर रहे हैं। अग्रवाल समाज कटघोरा के नव-निर्वाचित पदाधिकारी और अग्रबंधुओं ने अग्रवाल सभा अध्यक्ष पवन अग्रवाल की अगुवाई में  व्यवहार न्यायालय के सामने धरना स्थल पहुंचकर समर्थन जाहिर किया है। 
 
                अग्रवाल समाज के अध्यक्ष पवन अग्रवाल ने सभा को संबोधित किया। उन्होने बताया कि जिस तरह गंगा भागीरथ प्रयास से स्वर्ग से धरती पर लाया गया। ठीक उसी तरह कटघोरा का जिला बनना निश्चित है। लेकिन इसके लिए हमें भगीरथ प्रयास करना होगा। हमें पूरा विश्वास है कि वह दिन भी आएगा जब कटघोरा को जिला का दर्जा मिलेगा।
 
     धरना स्थल से अग्रवाल समाज के सभी साथीगण तहसील परिसर स्थित अनुविभागीय दंडाधिकारी “राजस्व” कार्यालय पहुंचकर अनुविभागीय अधिकारी सूर्यकिरण तिवारी को मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के नाम कटघोरा को जिला बनाने संबंधी मांगपत्र सौंपा।
 
कटघोरा का अधिकार
 
                 धरना प्रदर्शन के दौरान अग्रवाल के लोगों ने अपने संबोधन में बताया कि कटघोरा की ऐतिहासिक और भौगोलिक संरचना को देखते हुए क्षेत्र को जिला बनाया जाना बहुत जरूरी है। जिला बनने के बाद कटघोरा क्षेत्र का तेजी से विकास होगा। रोजगार के नए अवसर मिलेंगे। नागरिक सुविधाएं भी बढ़ेंगी। स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार होगा। उद्योग, आवागमन, परिवहन और कारोबार के लिए नए दरवाजे खुलेंगे। राज्य सरकार को लोगों की भावनाओं का ध्यान में रखते हुए कटघोरा को जिला का दर्जा प्रदान करना होगा। वक्ताओं ने बताया कि कटघोरा प्रदेश का सबसे पुरातन तहसील है। जबकि कटघोरा के समकालीन सभी तहसील अब जिला बन चुके हैं।
 
                    जिला बनाओ महाभियान धरना प्रदर्शन में अग्रवाल सभा कटघोरा के अध्यक्ष पवन अग्रवाल, उपाध्यक्ष संजय गोयल, सचिव अजय गर्ग, कोषाध्यक्ष अरविंद मित्तल,सह-कोषाध्यक्ष संतोष अग्रवाल, रमेश अग्रवाल (भवानी) पवन अग्रवाल (ज्योति), बजरंग अग्रवाल, राकेश गोयल,लक्ष्मी गर्ग,अजय धनोंदिया, नवीन गोयल, राकेश अग्रवाल,प्रशांत अग्रवाल, अग्रवाल नवयुवक मंडल के अध्यक्ष पीयुष गर्ग, उपाध्यक्ष अंकुश अग्रवाल व लव अग्रवाल, सचिव निखिल अग्रवाल, कोषाध्यक्ष आदेश अग्रवाल, अनिरूद्ध अग्रवाल एवं अधिवक्ता संघ की ओर से अध्यक्ष सुधीर मिश्रा,भरत पाण्डेय, राजेश पाल,नरेश गुप्ता, राघवेन्द्र सिंह,संजय केला, भुवनेश्वर डिक्सेना, रामशंकर जायसवाल, नरेश साहु, वेदराम कुर्रे, संतोष जायसवाल, राकेश साहू, अशोक दुबे समेत बड़ी संख्या में अग्रवाल समाज के वरिष्ठ व युवा सदस्य, अधिवक्ता संघ के सदस्य, पत्रकार गण और नगरवासियों ने शिरकत किया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *