CG Board परीक्षा स्थगित करने की मांग..शिक्षक नेता अमित ने कहा..सीएम को देंगे ज्ञापन..खतरे में पड़ जाएगी लाखों विद्यार्थियों की जिन्दगी

बिलासपुर—कोरोना संक्रमण को देखते हुए बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने की मांग उटने लगी है। शिक्षक नेता अमित नामदेव ने भी कोरोना संक्रमण को लेकर चिंता जाहिर की है। साथ ही बोर्ड परीक्षाओं का आफलाइन परीक्षा आयोजन को निरस्त किये जाने की बात कही है। शिक्षक नेता अमित नामदेव ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण बड़ी तेजी से बढ़ रहा है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर से इस बार छोटे शहर और ग्रामीण इलाके भी अछूते नही है। हालात की स्थिति को देखते हुए राजधानी रायपुर में 9 अप्रैल से लॉक डाउन की घोषणा कर दिया गया है। ऐसी विकराल परिस्थितियों में भी छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बोर्ड परीक्षा आफलाइन लेने का एलान किया है। यह किसी भी सूरत में उचित नहीं है।
नामदेव ने बताया कि बोर्ड परीक्षा का आयोजन 15 अप्रैल से किया जाना है। बोर्ड ने कोरोना संक्रमण के बीच परीक्षा आयोजन को लेकर बाकायदा गाइड लाइन भी जारी कर दिया है।  11 अप्रैल से प्रश्न पत्रों का वितरण जिले के समन्वय केंद्र शालाओ से करने के निर्देश भी दिया है। सवाल उठता है कि क्या इन परिस्थितियों के बीच बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन उचित होगा ?
 
अमित ने कहा कि दुर्ग विधायक अरुण वोरा ने बाकायदा पत्र लिख कर मुख्यमंत्री से मांग की है कि इस वर्ष बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर देना चाहिए। नवीन शिक्षक संघ प्रदेश उपाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण का तेजी से विस्तार हो रहा है। पूरे प्रदेश में आम जनता के साथ-साथ प्रतिदिन अलग-अलग जिलो में शिक्षक भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर जान से हाथ धोकर कीमत चुका रहे हैं।नामदेव ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते भयावह स्थिति को देखते हुए प्रदेश के मुखिया को शिक्षक संघ ज्ञापन देगा। साथ ही बोर्ड परीक्षा देने वाले लाखों विद्यार्थियों की सुरक्षा की मांग करेंगे। इसके अलावा इस वर्ष बोर्ड परीक्षाओं के ऑफलाइन आयोजन पर रोक लगाए जाने की बात को भी सामने रखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *