कांग्रेस सरकार पर भाजपा का हल्ला बोल..धरम,मोतीलाल ने कहा..प्रदेश की हालत नाजुक..नहीं चलेगी बहानेबाजी.. 13 को करेंगे 90 विधानसभा में प्रदर्शन

बिलासपुर—  भारतीय जनता पार्टी प्रदेश उपाध्यक्ष और बिलासपुर संगठन प्रभारी मोतीलाल साहू ने कहा…प्रदेश की हालत बहुत नाजुक है। कांग्रेस सरकार किसानों से लगातार झूठ बोल रही है। किसान आत्महत्या के लिए मजबूर हैं। किसानों का रकबा कम होने से जनता में भयंकर आक्रोश है। सरकार समर्थन मूल्य देने में नाकाम साबित हुई है। अपनी गलतियों का ठिकरा केन्द्र सरकर पर फोड़ रही है। लेकिन यह बहानेबाजी नहीं चलेगी। इसलिए भाजपा ने फैसला किया है कि 13 जनवरी को 90 विधानसभा में एक साथ धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा 22 जुलाई को सभी भाजपा प्रदेश स्तर पर सभी जिलों में एक साथ व्यापक धरना प्रदर्शन करेंगे।

                जनता के बीच पहुंचकर प्रदेश कांग्रेस सरकार को घेरने आज भाजपा नेताओ की वैठक हुई। बैठक को जिला संगठन और प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक की है। इस दौरान पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल और विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने धरना प्रदर्शन की रणनीति पर प्रकाश डाला। पत्रकार वार्ता में धरम और मोतीलाल साहू ने कहा कि भाजपा नेता 13 जनवरी को एक साथ प्रदेश के सभी 90 विधानसभा में धरना प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही सरकार की किसानों के साथ की गयी वादाखिलाफी को केन्द्र में रखकर प्रदेश स्तर पर 22 जनवरी को सभी जिलो में धरना प्रदर्शन किया जाएगा।      

       सवाल जवाब के दौरान मोतीलाल साहू ने बताया कि सत्ता हासिल करने कांग्रेस नेताओं ने किसानों और आम जनता के छल कपट की है। लोकलुभावन जनघोषणा पत्र तैयार कर सत्ता पर काबिज भी हो गए। लेकिन कर्ज माफी के समय भेदभाव किया गया। किसी का कर्ज माफ हुआ तो किसी को आज तक कर्ज माफी का इंतजार है। 

              मोतीलाल और धरम ने बताया कि कांग्रेस ने अपने जनघोषणा पत्र में प्रति क्विटंल धान खरीदी मूल्य 2500 देने का वादा किया था। लेकिन अभी तक किसानों को धान का समर्थन मूल्य नहीं दिया गया। अब तक न्याय योजना की चर्चा नहीं थी  लेकिन सरकार समर्थन मूल्य नहीं देकर दस हजार रूपए किसानों को दे रही है। यह सरासर किसानों के साथ अन्याय है।

                   जब केन्द्र सरकार सम्माननिधि दे सकती है तो न्याय योजना के तहत राज्य सरकार किसानों को  दस हजार क्यों नही दे सकती। क्या इससे भाजपा को एतराज है। मोतीलाल के साथ धरमलाल ने बताया कि एतरात नहीं है। लेकिन सरकार को समर्थन मूल्य का वादा पूरा करना चाहिए।

               डॉ. रमन सिंह ने 2100 रूपए समर्थन मूल्य और 300 रूपए बोनस का वादा किया था। क्या वही काम अब कांग्रेस सरकार कर रही है। सवाल को इस दौरान भाजपा नेताओं ने टालने का पुरजोर प्रयास किया। बावजूद इसके उन्होने कहा कि हमने अपने घोषणा पत्र में 2100 रूपए समर्थन मूल्य देने नहीं बल्कि विचार करने का वादा किया था। बोनस के साथ भी कुछ ऐसा ही था। 

              मोतीलाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसानों ने गिरदावली को सुना तो था..लेकिन पहली बार कांग्रेस सरकार में देखने को भी मिला। बिना बताए किसानों का रकवा कम कर दिया। बाद में औपचारिकता के नाम पर त्रुटि सुधारे जाने का अभियान चलाया गया।

              भाजपा नेताओं ने जानकारी दी कि आज प्रदेश में किसानों की हालत बद से बदतर है। हजारों मीट्रिक टन धान को सड़ाया जा रहा है। वारदाना के सवाल पर धरमलाल कौशिक ने बताया कि व्यवस्था करना राज्य सरकार का काम है। वारदाना को लेकर सरकार लगातार झूठ बोल रही है। सदन में कुछ और सदन के बाहर कुछ बताया जा रहा है। 

          क्या समर्थन मूल्य के समर्थन में भाजपा नेता केन्द्र पर दबाव डालेंगे। भाजपा नेताओं ने कहा कि क्या कांग्रेस ने हमसे पूछकर समर्थन मूल्य का निर्धारण किया था।

                   दोनो  पार्टियां सत्ता के लिए लड़ रही है। नुकसान किसानों को हो रहा है। धान का उठाव क्यों नहीं किया जा रहा है। एफसीआई को चाववल उठाव का आदेश केन्द्र सरकार क्यों  नहीं दे रही है। अपने गोलमोल जवाब में भाजपा नेताओं ने बताया कि अभी पिछले साल का चावल राज्य सरकार ने जमा नहीं किया है। गोदाम खाली है। लेकिन इन्हें चिठ्ठी लिखने से फुरसत नहीं है। धान उठाव नहीं होने से केवल किसानों को ही नहीं..बल्कि राष्ट्र को भी नुकसान हो रहा है।  

               हम किसानों के समर्थन में 13 जनवरी को विधानसभा स्तर पर 22 जनवरी को जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन करेंगे। सरकार पर समर्थन मूल्य में धान खरीदने का दबाव बनाएंगे। धरम लाल ने बताया कि धान का नहीं होने से करोड़ टन धान सड़ रहा है। इसलिए सरकार पर धान उठाव के लिए भी दबाव बनाएंगे। धरम ने बताया कि आज से पहले प्रदेश की हालत इतनी खराब कभी नहीं थी। जितनी अब देखने को मिल रहा है। खजाना खाली हो गया है। जबकि धान उठाव के लिे केन्द्र ने 9 हजार करोड़ रूपए दिए है। लेकिन सरकार झूठ बोल रही है कि उन्हें रूपए नहीं मिले है। लेकिन हम धरना प्रदर्शन के माध्यम से सारी सच्चाइयों को जनता के सामने रखेंगे।

                         पत्रवार्ता के दौरान धरमलाल कौशिक, मोतीलाल साहू के अलावा प्रदेश महामंत्री, जिला भाजपा अध्यक्ष, पूर्व राज्य महिला आयोग अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय, विधायक रजनीश सिंह, विधायक कृष्णमूर्ति बांधी और भाजपा मंत्री महर्षि वाजपेयी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *