जिला शिक्षा अधिकारी ने ली जिले के नवाचारी शिक्षकों की वर्चुअल बैठक

Shri Mi

जशपुर जिला के नवनियुक्त जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद कुमार भटनागर ने जिले के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने एवं शिक्षा में गुणवत्ता हेतु जिले के नवाचारी शिक्षकों से ऑनलाइन चर्चा की।

Join Our WhatsApp Group Join Now

उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों को शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने कहा कि हम सभी को एक कुशल रणनीति के तहत नवाचार करते हुए जशपुर जिला को शिक्षा के क्षेत्र में एक नई ऊंचाई पर पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को स्कूल में अपने कर्तव्य का पालन करते हुए अध्यापन कार्य नियमित रूप से संपादित करना चाहिए । 

विद्यालय में बिना अध्यापन कार्य किए अपने कर्तव्यों को पूर्ण समझ लेना बहुत बड़ी भूल है । 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में नई शिक्षा नीति लागू होने से पाठ्यक्रम में आमूलचूल परिवर्तन होंगे तद्अनुसार अध्यापन के तरीके में बहुत सारे बदलाव करने होंगे जिसके लिए हम सभी को कमर कस लेने की आवश्यकता है।

श्री भटनागर ने कहा कि शीघ्र ही जिले में नवाचारी शिक्षकों हेतु एक पत्रिका का प्रकाशन किया जाएगा जिसमें उत्कृष्ट नवाचारी शिक्षकों के नवाचार से संबंधित कार्यों का लेख प्रकाशित किया जाएगा एवं उन्हें पुरुस्कृत भी किया जायेगा।

शिक्षकों ने जिला शिक्षा अधिकारी के इस पहल को सराहा और कहा कि इससे शिक्षकों द्वारा किया गया बहुआयामी नवाचार सीधे विभाग प्रमुख के समक्ष प्रस्तुत हो सकेंगे। इस ऑनलाइन बैठक में जिले से लगभग 75 नवाचारी शिक्षक जुड़े थे।

ऑनलाइन चर्चा में जिला शिक्षा अधिकारी ने शिक्षक ज्योति श्रीवास्तव, सीमा गुप्ता, गायत्री देवता, ज्योति श्रीवास्तव, ममता सिन्हा, मीना सिन्हा, मुकेश कुमार , अयोध किशोर गुप्ता, संजय दास एवं अन्य नवाचारी शिक्षकों से उनके द्वारा किए गए नवाचार पर चर्चा की । कार्यक्रम के अंत में श्री भटनागर ने कहा कि हम सभी के लिए शिक्षा ही सर्वोपरि है। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही उचित नहीं होगी। आगामी सत्र में शिक्षकों को उत्कृष्ट कार्य करने की प्रेरणा दी गई ।

By Shri Mi
Follow:
पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
close