माउंट एवरेस्ट फतह कर आई दिव्यांग बच्चियों चंचल और रजनी का सम्मान

धमतरी। ज़िले के ऐसे पांच बच्चे, जो छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित हायर सेकेंडरी और हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा 10 वीं और 12 वीं में प्रदेश की मेरिट लिस्ट में जगह बनाए हैं, उन्हें कलेक्टर श्री पी.एस.एल्मा ने आज पुष्प गुच्छ और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इसमें 12 वीं परीक्षा में मेरिट में छठवां स्थान प्राप्त श्रिया पांडे, दसवें स्थान में आए खुशान्क देवांगन सहित हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा में मेरिट में आए विवेक देवांगन, ओकेश कुमार, भूपेश कुमार गजेंद्र जो  क्रमशः पांचवें, आठवें और नौवें स्थान में हैं, उन्हें भी कलेक्टर ने पुष्प गुच्छ और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इन विद्यार्थियों के अभिभावक भी साथ में मौजूद रहे।

 इसी क्रम में माउंट एवरेस्ट फतह करके आई ज़िले की दो दिव्यांग बच्चियों को भी कलेक्टर ने सम्मानित किया। दरअसल पिछले दिनों प्रदेश के नौ पर्वतारोहियों में जिले की कुमारी चंचल सोनी और रजनी जोशी भी दस दिनों में 5364 मीटर की चढ़ाई पूरी कर एवरेस्ट बेस कैंप पहुंचे। कुमारी चंचल सोनी का बचपन से एक पैर नहीं है। वह 12 साल की उम्र से ही व्हीलचेयर बास्केटबॉल प्रतियोगिता में हिस्सा ले रहीं हैं। वे बैसाखी के सहारे एवरेस्ट की चढ़ाई कर विश्व की सबसे कम उम्र (14 वर्ष) की दिव्यांग पर्वतारोही बनीं।

इसी तरह 60 फीसदी दृष्टिबाधित 21 वर्षीय पैरा जूडो और पैरा स्विमिंग की नेशनल खिलाड़ी कुमारी रजनी जोशी ने भी एवरेस्ट में 5364 मीटर की चढ़ाई पूरी की। इन दोनों को भी पुष्प गुच्छ और प्रशस्ति पत्र देकर कलेक्टर ने सम्मानित किया। उन्होंने इस मौके पर ज़िले को गौरवान्वित करने वाले इन सभी होनहारों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्य कार्यपालन अधिकारी ज़िला पंचायत श्रीमती प्रियंका महोबिया ने भी कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित इस छोटे से अभिवादन समारोह में इन बच्चों को हार्दिक बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *