डायमंड सिटी में अर्पिता मुखर्जी के घर पर ईडी की फिर छापेमारी, सीसीटीवी फुटेज की हो रही जांच

पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले की आरोपी अर्पिता मुखर्जी के घर पर एक बार फिर ईडी ने छापा मारा है. इस बार कोलकाता के डायमंड सिटी स्थित उनके आवास पर छापा मारा गया है. इसी के साथ जांच एजेंसी सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है और अर्पिता मुखर्जी के ड्राइवर प्रणब भट्टाचार्य से पूछताछ की है. अर्पिता मुखर्जी ईडी की हिरासत में हैं. जांच एजेंसी उनसे पूछताछ कर रही है. बंगाल के बर्खास्त कैबिनेट मंत्री पार्थ चटर्जी भी मामले में आरोपी हैं और वह भी ईडी की हिरासत में पूछताछ का सामना कर रहे हैं.

इससे पहले ईडी अर्पिता मुखर्जी के कम से कम तीन बैंक खातों से लेनदेन पर रोक लगाने की प्रक्रिया शुरू कर चुकी है, जिनमें जांच एजेंसी को कम से कम दो करोड़ रुपये मिले हैं. एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि मुखर्जी की कई “फर्जी कंपनियों” के बैंक खाते भी ईडी की जांच के दायरे में हैं. अधिकारी ने बताया, “मुखर्जी के तीन बैंक खातों को फ्रीज करने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. इन खातों में कुल करीब दो करोड़ रुपये मिले हैं. हमें संदेह है कि इन खातों का इस्तेमाल कई लेन-देन करने के लिए किया गया था और आगे की जांच की जा रही है.”

अधिकारी ने खातों से प्राप्त रकम की जानकारी न देते हुए कहा कि “फर्जी कंपनियों” के बैंक खातों को फ्रीज करने का फैसला करना अभी बाकी है. उन्होंने बताया, “हमने संबंधित अधिकारियों से इन बैंक खातों का ब्योरा मांगा है. खातों की जांच करने के बाद हम आगे की कार्रवाई के बारे में कोई भी फैसला करेंगे.” ईडी ने बताया कि मुखर्जी से यह जानने के लिए पूछताछ जारी रहेगी कि क्या उनके पास और बैंक खाते हैं. सूत्रों के अनुसार, चटर्जी के बैंक खातों की भी जांच की जा रही है. सूत्रों ने ये भी बताया कि मुखर्जी और चटर्जी दोनों से सुबह से पूछताछ चल रही है. पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी के दो फ्लैट से ईडी ने भारी मात्रा में आभूषण और विदेशी मुद्रा के अलावा 50 करोड़ रुपये नकद जब्त किए थे. दोनों तीन अगस्त तक केंद्रीय एजेंसी की हिरासत में रहेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *