कलेक्टर कार्यालय के ड्रायवर ने लगाई फांसी..संविदा पर था नियुक्त…सिम्स में हुई मौत

बिलासपुर— कलेक्टर कार्यालय के ड्रायवर ने बीती रात फांसी पर झूलकर आत्महत्या कर ली है। मृतक का नाम विपिन रजक पिता कुशल रजक है। विपिन शांतिनगर का रहने वाला है। परिजनों ने घटना के बाद विपिन की फांसी काटकर सिम्स में दाखिल कराया। लेकिन तब तक विपिन की मौत हो चुकी थी।

सकरी पुलिस चौकी क्षेत्र शांतिनगर निवासी  विपिन रजक ने फांसी पर झूलकर आत्महत्या कर ली है। मृतक के पिता का नाम कुशल रजक है। विपिन कलेक्टर कार्यालय में संविदा ड्रायवर के पद पर काम कर रहा था। विपिन का भाई कौशल यादव ने बताया कि बुधवार की शाम विपिन काम के बाद घर लौटा। सीधे कमरे में चला गया। ना तो किसी से कुछ बोला और ना ही खाना खाया।

कौशल ने बताया कि करीब 10-11 बजे के बीच घर के लोग विपिन के कमरे का दरवाजा खटखटाया। लेकिन अन्दर से कोई जवाब नहीं मिला। करीब 11 बजे खुद गया जोर से आवाज दी। लेकिन ना तो दरवाजा खुला और ना ही कोई आवाज ही आयी। अनहोनी की आशंका को देखते हुए कमरे का दरवाजा तोड़ा गया।

कमरे में विपिन पंखे से लटका हुआ मिला। आनन फानन में घर के लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। इसके बाद फांसी काटकर विपिन को नीचे उतारा। तत्काल लेकर सिम्स गए..लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

सकरी पुलिस चौकी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद जानकारी मिल जाएगी कि फांसी लगाने का कारण क्या था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *