सेवानिवृत्ति के अवसर पर निदेशक तकनीकी सह कार्मिक एम.के. प्रसाद को दी गई भावभीनी विदाई 

बिलासपुर।30 सितंबर को कोलइण्डिया/एसईसीएल से सेवानिवृत्त होने वाले निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक श्री मनोज कुमार प्रसाद के सेवानिवृत्त होने पर एसईसीएल मुख्यालय प्रशासनिक भवन स्थित प्रांगण में अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. प्रेम सागर मिश्रा, निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) एस.के. पाल, निदेशक (वित्त) श्री जी. श्रीनिवासन, श्रद्धा महिला मण्डल की अध्यक्षा श्रीमती पूनम मिश्रा, उपाध्यक्षागण-श्रीमती पिंकी प्रसाद, श्रीमती रीता पाल, श्रीमती आर. राजी श्रीनिवासन, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) श्री ए.के. सक्सेना, विभिन्न विभागाध्यक्षों, क्षेत्रीय महाप्रबंधकों, संचालन समिति, सुरक्षा समिति, कल्याण मण्डल के पदाधिकारियों, एससी/एसटी/ओबीसी, सीएमओएआई एवं विभिन्न श्रमसंघ प्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों की उपस्थिति में भावभीनी विदाई दी गई।

       इस कार्यक्रम में निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक श्री मनोज कुमार प्रसाद एवम श्रीमती पिंकी प्रसाद के स्वागतोपरांत निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक श्री मनोज कुमार प्रसाद ने कोलइण्डिया में अपने 37 वर्षों से अधिक सेवाकाल के दौरान सबके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कोयला क्षेत्र की चुनौतियों को स्वीकार कर अपने लक्ष्य के प्रति प्रतिबद्ध होते हुए निरंतर कार्यरत रहने से सफलता अवश्य प्राप्त होती है। उन्होंने कार्य के दौरान सफलता के लिए कर्तव्यपरायणता एवं समयबद्धता को आवश्यक मूलमंत्र बताया। उन्होंने एसईसीएल के शीर्ष टीम एवं एसईसीएल कर्मियों की उत्कृष्ठ कार्य संस्कृति की सराहना करते हुए आने वाले समय में एसईसीएल के उज्जवल भविष्य की कामना की एवं एसईसीएल में बिताए अपने पलों को साझा करते हुए एसईसीएल द्वारा दिए गए इस आत्मीय सम्मान के लिए सभी का आभार व्यक्त किया। 

       अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक डॉ. प्रेम सागर मिश्रा ने कहा श्री प्रसाद अपने कठिन परिश्रम, रचनात्मकता, कार्यकुशलता, सेवाभावना, कार्यकलापों से आगे बढ़ते गए जो सभी के लिए प्रेरणास्त्रोत व मिसाल हैं, कड़ी मेहनत से ही लक्ष्य की प्राप्ति होती है । अपनी लगन, मेहनत, अपनी सटीक निर्णय क्षमता के बलबूते ही वे एसईसीएल जैसी प्रतिष्ठापूर्ण कोयला उत्पादक कम्पनी के निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक जैसे जिम्मेदारीपूर्ण पद से सेवानिवृत्त हो रहे हैं । अंत में उन्होंने श्री प्रसाद के सपरिवार सुखमय भविष्य की कामना ईश्वर से की ।

       निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) श्री एस.के. पाल ने कहा कि श्री प्रसाद की विपरीत परिस्थतियों में कार्य कैसे करना है, लक्ष्य तक कैसे पहुचना है यह इनकी खूबी है।  इनमें मानवीय दृष्टिकोण कूट-कूटकर भरा है। आप स्वप्नदृष्टा, कार्यनीतिज्ञ, और कार्यकुशल व्यक्ति के रूप में जाने जाते हैं।

       निदेशक (वित्त) श्री जी. श्रीनिवासन ने कहा श्री प्रसाद परिपक्व माईनिंग इंजीनियर हैं। श्री प्रसाद में कम्युनिकेशन स्कील, प्रेजेन्टेशन क्वालिटी, लीडरशिप क्वालिटी, ह्यूमन टच, क्रिएटिव थाट है। वे माईनिंग के साथ ही साथ कम्प्यूटर में भी सिद्धहस्त हैं।

        इस अवसर पर श्रमसंघ पदाधिकारीगण श्री नाथूलाल पाण्डे (एचएमएस), श्री हरिद्वार सिंह (एटक), श्री मजरूल हक अंसारी (बीएमएस), श्री गोपाल नारायण सिंह (एसईकेएमसी), श्री बीएम मनोहर (सीटू), श्री के0 पाण्डे (सीएमओएआई) ने अपने-अपने सम्बोधन में कहा कि श्री प्रसाद बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी, नम्रता एवं मिलनसारिता की खान, कर्मठता की प्रतिमूर्ति हैं। आपने सदैव अधीनस्थों को प्रेरित कर वैचारिक व प्रेरणास्पद नेतृत्व मुहैया कराया जिससे लोग स्वमेव सर्वोत्तम प्रयास करते हुए निष्ठापूर्वक कार्य निष्पादित करने के लिए प्रोत्साहित हुए।

        इस अवसर पर मानपत्र का पठन महाप्रबंधक (विपणन/क्रय) श्री सी.बी. सिंह ने किया जिसे निदेशक मण्डल द्वारा श्री मनेाज कुमार प्रसाद को भेंट किया गया। कार्यक्रम में जनसंपर्क विभाग द्वारा संग्रहित फोटो एलबम एवं प्रेस कतरने प्रस्तुत की गयी जिसे निदेशक मण्डल द्वारा मनोज कुमार प्रसाद को भेंट किया गया। कार्यक्रम का संचालन जनसंपर्क अधिकारी डॉ. सनीश चन्द्र ने किया जबकि अंत में उपस्थितों को धन्यवाद ज्ञापित महाप्रबंधक (कार्मिक/श्रमशक्ति) ए.के. सन्तोषी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *