मेरा बिलासपुर

ढाबा संचालक पर प्राणघातक हमला…मुख्य आरोपी भिलाई से गिरफ्तार…आरोपी ने बताया..रेकी के बाद 3 साथियों के साथ दिया घटना को अंजाम

बिलासपुर—कोनी पुलिस ने ढाबा संचालक पर प्राणघातक हमला के  जुर्म में मुख्य आरोपी आयुष काले उर्फ सिब्बू को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने अन्य 3 साथियो के साथ षडयंत्र कर ढाबा संचालक पर प्राणघातक हमला किया था। पुलिस ने आरोपी को आपराधिक षड्यंत्र और रेकी करने में उपयोग किए गए कार को भी जब्त किया है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

पुलिस के अनुसार 30 मई 2024 की रात्रि ग्लोरी परिवार ढाबा ग्राम गतौरी के संचालक लवकेश भोसले उर्फ लवी पर अज्ञात व्यक्तियों ने  प्राणघातक हमला किया। घायल की तत्काल डाक्टरी मुलाहिजा कर अस्पताल मे भर्ती कराया गया । अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का प्रयास का जुर्म दर्ज किया गया।

पुलिस कप्तान रजनेश सिंह के निर्देश पर तत्काल आरोपियों की पतासाजी शुरू हुई। सायबर सेल और  सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जानकारी मिली कि मुख्य आरोपी आयुष काले भिलाई स्थित नेहरू नगर मे छिपा है। पुलिस टीम ने तत्काल भिलाई पहुंचकर आरोपी आयुष काले को धर दबोचा।

आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि नवंबर 2023 मे तुलजा भवानी मे जगराता कार्यक्रम के दौरान घायल ढाबा संचालक से झगड़ा हो गया था। रंजिश को लेकर प्राणघातक हमला करने की योजना बनाया। बिलासपुर और भिलाई के अन्य तीन साथियो के साथ योजना बनाकर 30 मई की रात्रि एक आरोपी से धारदार हथियार से हमला करवाया।

अपराध कबूल किए जाने के बाद आरोपी आयुष काले को विधिवत गिरफ्तार किया गया। आरोपी ने बताया कि उसके तीन साथी फिलहाल फरार है। पुलिस के अनुसार फरार तीनों आरोपियों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। फिलहाल मुख्य आरोपी आयुष काले को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

                   

Back to top button
close