Film एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर के कलाकारो को कॉंग्रेसियो से खतरा,BJP ने उठाई सुरक्षा की मांग

gujrat, election, 2017, bjpरायपुर।भारतीय जनता पार्टी जिला अलीगढ़ के जिला प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी डॉ निशीत शर्मा ने केंद्रीय गृह मंत्री ,भारत सरकार, राजनाथ सिंह को एक पत्र लिखा है।जिसमें उन्होंने बॉलीवुड फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर के अभिनेताओं की सुरक्षा के संबंध में बात कही है।डॉ निशीत शर्मा ने अपने पत्र में कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के जीवन पर बनी बॉलीवुड फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर जो 11 जनवरी को रिलीज हो रही है।राजनीतिक दल कांग्रेस के कई नेता और इसके छात्र संगठन इस फिल्म के विरोध में उतर आए हैं।और विचलित कर देने वाले बयान भी सार्वजनिक रूप से दे चुके हैं। यह संभव है कि इस फिल्म के कलाकार, निर्देशक, निर्माता आदि को कांग्रेस पार्टी के अराजक तत्व हानि पहुंचाने का प्रयास करें।निवेदन है कि फिल्म के कलाकार,निर्माता-निर्देशक को फिल्म रिलीज होने तक प्रमोशन के समय उचित सुविधा प्रदान की जाए और हर जिले के सिनेमाघरों में विशेष सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए।

उधर मध्य प्रदेश सरकार के जनसंपर्क विभाग ने इस संबंध में चल रही अफवाहों को शांत करने के लिए ट्वीट के जरिए बताया कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है. फिल्म पर प्रतिबंध की खबर ‘भ्रामक और गलत’ है.

इधर फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाले अनुपम खेर ने कहा कि उनके (कांग्रेस) नेता पर फिल्म बनी है और उन्हें खुश होना चाहिए. इसके साथ ही उतने कहा कि भीड़ लेकर भेजनी चाहिए क्योंकि इसमें कई ऐसे डायलॉग है जिसे देखकर लगता है कि कितने महान हैं मनमोहन सिंह.

इसके साथ ही अनुपम खेर ने कहा, ‘हाल ही में मैंने राहुल गांधी का ट्वीट पढ़ा था जिसमें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर बोला था, तो मुझे लगता है कि जो लोग फिल्म का विरोध कर रहे है उन्हें डांटना चाहिए, कहना चाहिए कि आप लोग गलत बात कर रहे हैं.’

फिल्ममेकर मधुर भंडाकर ने TheAccidental Prime Minister पर कहा, ‘यह मेरे लिए दूसरा पल है, पिछले साल मेरी फिल्म इंदू सरकार को लेकर पूरे देश भर में विरोध प्रदर्शन हुआ था, जबकि फिल्म किताब पर आधारित था और उसे लेकर किसी ने भी विरोध नहीं किया.

बता दें कि मनमोहन सिंह पर बनी इस फिल्म का ट्रेलर गुरूवार को मुंबई में रिलीज हुआ. यह फिल्म 2004 से 2008 तक मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू की पुस्तक पर आधारित है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *