क्यों दर्ज हुआ किड्जी संचालक पर जुर्म—शिक्षक और पैरेन्ट का बयान, कैसे करें विश्वास—अब होगी पुलिस पड़ताल

IMG-20170829-WA0016 IMG20170829115007   बिलासपुर— नेहरूनगर स्थित आदर्श किडजी स्कूल प्रिंसिपल और बच्ची का मामला धीरे धीरे नया मोड़ लेता जा रहा है। यद्यपि सिविल लाइन पुलिस ने मामला दर्ज कर उत्तम वकले को आज गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आदर्श किड़जी स्कूल प्रीसिंपल को मुलायजा के लिए अस्पताल भेजा। वलके को अब कोर्ट में पेश किया जाएगा।

                                   एक दिन पहले आदर्श किडजी में पढ़ने वाली बच्ची के साथ प्रिसिपल की हैवानियत की खबर ने शहर को हिलाकर रख दिया। बच्ची के माता पिता की शिकायत पर सोमवार देर शाम सिविल लाइन पुलिस ने उत्तम वलके को हिरासत में लिया था। आज गिरफ्तारी के बाद प्रिंसिपल को मुलायजा के लिए भेजा गया ।

                      जानकारी के अनुसार मोबाइल कम्पनी कर्मचारी जबलपुर से स्थानांतरण के बाद बिलासपुर आया। 1 अगस्त को अपनी तीन साल की बच्ची का एडमिशन नेहरू नगर स्थित आदर्श किडजी स्कूल नर्सरी में कराया। 4 अगस्त को स्कूल से डरी सहमी बच्ची घर आयी। स्कूल नहीं जाने की बात कही। बच्ची ने बताया कि गाल पर स्कूल के प्रिंसिपल ने काटा है।

                          परिजनों ने पुलिस को बताया कि तात्कालीन समय बच्ची की शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। 23 अगस्त को बच्ची स्कूल से आने के बाद स्कूल नहीं जाने की बात कही। उसने बताया कि सर मारते हैं। बच्ची के अनुसार प्रिसिंपल ने होंठ और गाल को काटा है। सिविल लाइन पुलिस ने महिला की शिकायत पर कल देर शाम मामला दर्ज कर आदर्श किडजी स्कूल प्रिसिंपल को हिरासत में लेकर पूछताछ की। 24 घंटे बाद आज काउंसिलिंग के बाद प्रिसिंपल उत्तम वलके के खिलाफ धारा 354 क(1),9(च),10 के तहत मामला दर्ज कर मुलायजा के लिए भेजा। आरोपी वलके को कोर्ट में पेश किया गया।

डायरेक्टर ने कहा झूठा आरोप

                 IMG-20170829-WA0015                      आदर्श किड़जी के एक अन्य डायरेक्टर सत्या सिंह ने बताया कि उत्तम वलके मेरे ना केवल सहयोगी हैं।Screenshot_2017-08-29-19-25-36-28 बल्कि अच्छे इंसान और दोस्त भी हैं। पिछले चार साल में उनकी एक भी शिकायत बच्चों के पैरेन्टस नहीं मिली। स्कूल में उनकी पत्नी भी पढ़ाती है। हमारे पास सीसीटीवी रिकार्ड है। पुलिस चाहे तो  प्रमाण के रूप में ले सकती है। सीसीटीवी में देखा जा सकता है कि बच्ची के माता पिता उत्तम वलके से किस तरह पेश आ रही है। स्कूल में बलके का बेटा भी पढ़ता है। विवाद के दौरान बच्ची के माता पिता ने एक लाख रूपए की मांग की। चिल्लाते हुए कहा कि यदि रूपए नहीं दिये तो पुलिस में शिकायत करूंगी।

                        सत्या सिंह ने बताया कि बच्ची के माता पिता हापुड़ से हैं। जबलपुर से बिलासपुर आए। उन्होने बताया कि जबलपुर में बच्ची किड्जी में पढ़ती थी। इसलिए एडमिशन फीस नहीं देंगे। बावजूद इसके हमने लिया। हमारे यहां ऐसा कोई आदेश नहीं है कि एडमिशन फीस ना लें। चाहे बच्चा कहीं के भी किड्जी में पढ़ता हो।  शायद इसलिए उन्होने घटिया आरोप का सहारा लिया। गाली गलौच की। जब एक लाख रूपए नहीं दिये तो पुलिस में शिकायत कर दी।

बच्ची तीन साल से पढ़ रही

                  IMG20170829114348   अमित गौर ने बताया कि उनकी बच्ची तीन साल से किड्जी की छात्रा है। स्टाफ से मुझे कोई शिकायत नहीं है। मैने कई बार स्कूल में आकस्मिक पड़ताल किया है। मैं भी शिक्षा से जुड़ा हूं। मेरी बच्ची स्कूल में खुश नजर आयी। यदि प्रिसिंपल ने पीड़ित बच्ची के साथ ऐसा कुछ किया है तो फिलहाल  विश्वास करना मुश्किल है।पुलिस छानबीन के बाद मामला सामने आ जाएगा। फिलहाल मुझे स्कूल से कोई शिकायत नहीं है।

आज तक ऐसा नहीं हुआ…

                    ज्योति गुप्ता ने बताया कि उनकी बच्ची भी स्कूल में है। आज तक किसी टीचर ने रूड बीहेव नहीं किया है। यदि पीड़ित बच्ची के साथ अन्याय हुआ है तो मामला सामने आ जाएगा। फिलहाल प्रिसिंपल पर लगाया गया आरोप बेबुनियाद है। हमे विश्वास नहीं है कि वे ऐसी हरकत करेंगे। उनकी पत्नी भी किड्जी में पढ़ाती है।

मुझे अपने पति पर विश्वास

      IMG20170829113734                  किड्जी टीचर और प्रिसिंपल की पत्नी सुमन वलके ने बताया कि मेरे परिवार को बहुत बड़ा धक्का लगा है। मैं भी यहीं पढ़ाती हूं। मेरा बच्चा भी यहीं पढता है। उत्तम बच्चों से प्यार से बात करते हैं। मैं यहां हूं…उनकी एक एक गतिविधियों की मुझे जानकारी है। हमारे यहां सीसीटीवी फुटेज है। पुलिस जांच करे। इस आरोप को लेकर हम बहुत दिनों तक जिदा नहींं रह सकते हैं।

 पीडित परिजन की फरियाद 

                  बच्ची के माता पिता ने कहा कि हमने फरियाद की है। अब न्याय चाहिए। बच्चे ने उंगली के इशारे से बताया है कि यही सर हैं जिन्होने गाल और होंठ को काटा है। बच्ची को मारा पिटा है। हमने शिकायत कर दी है।

जांच के बाद होगा खुलासा

                       आईएएस शलभ सिन्हा ने बताया कि शिकायत के साथ आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया गया है। मामले में जांच की जाएगी। किड्जी स्कूल से जरूरी जानकारी लिया जाएगा। सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जाएगा। स्टाफ और पैरेन्टस से मामले में बातचीत करेंगे। जांच पड़ताल के बाद मामला सामने आ जाएगा कि दोषी कौन है। शळभ सिन्हा प्रारंभिक तौर पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। उन्होने कहा कि लगाए गए आरोपों की जांच होगी। इसके बाद ही कुछ बताने की स्थित में रहूंगा कि आरोप सही है या गलत। फिलहाल आरोपी उत्तम के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *