पांच ग्राम पंचायतों ने शत्-प्रतिशत टीकाकरण कर मिसाल कायम की, मगरलोड ब्लॉक की हैं ये पंचायतें

धमतरी।कोरोना संक्रमण के इस दौर में जहां अनेक लोग भ्रांतियों और अफवाहों की वजह से टीकाकरण से बच रहे हैं। वहीं धमतरी जिले के मगरलोड की पांच पंचायतें मिसाल कायम कर गई हैं। यहां ऐसी पांच पंचायतें हैं, जहां 45 साल से अधिक उम्र के शत-प्रतिशत लोगों ने पहला टीका लगवा लिया है। इन पंचायतों में हसदा 806, धौराभाठा नवा. 222, अमलीडीह 205, दुधवारा 190 और कुल्हाड़ीकोट 166 शामिल हैं। इन्हीं पंचायतों में सबसे बड़ी मिसाल है ग्राम हसदा। इन लोगों ने खुद आगे आकर टीकाकरण कराया। आज इस गांव के ऐसे सभी 806 लोग, जो 45 साल से अधिक उम्र के हैं वे ना केवल टीका लगवा लिए हैं, बल्कि दूसरे डोज के लिए अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे हैं।

इसके साथ ही ऐसी चार और पंचायतें हैं, जहां प्रशासनिक पहल और जनप्रतिनिधियों की समझाइश असर कर गई और अब ये शत-प्रतिशत टीकाकृत हो चुके हैं। इनमें अब इतनी जागरूकता आ गई है कि दूसरे डोज की बारी आने पर टीका लगाने पूरे उत्साह से इंतजार कर रहे। मगरलोड के ग्राम धौराभाठा नवा. निवासी श्री सूरज प्रकाश साहू, श्री ईश्वर लाल देवांगन सहित ग्रामीणों ने बताया कि 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग और दिव्यांगजनों को टीकाकरण केन्द्र तक ले जाने के लिए जहां वाहन की व्यवस्था की गई, वहीं दीवार लेखन के जरिए भी लोगों को जागरूक किया गया। इसके सार्थक परिणाम आए। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुरूद सुनील शर्मा बताते हैं कि कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य के सतत मार्गदर्शन से निचले स्तर तक के प्रशासनिक अमले में जोश भर गया है और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, क्षेत्र के चिकित्सक, पटवारी, सचिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, शिक्षक भिड़कर लोगों को टीकाकरण के लिए घर-घर पहुंच कर समझा रहे हैं।

दिन-रात और धूप-गर्मी सभी की चिंता छोड़ प्रशासनिक अमला बस इस जुनून के साथ काम कर रहा है, कि लोगों को टीका लगाने प्रोत्साहित किया जाए और टीकाकरण से जुड़ी अगर किसी तरह की भ्रांति फैली हुई है, तो उसे दूर की जाए। इसमें क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, सरपंच-पंच भी आगे बढ़ कर अपनी भागीदारी निभा रहे हैं। उम्मीद है कि अगर सब इसी मद्दा के साथ टीकाकरण में सकारात्मक भूमिका निभाएंगे, तो जल्द ही पूरे जिले में टीकाकरण हो जायेगा और कोरोना महामारी के प्रकोप से बचना संभव हो पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *