वन एवं संसदीय सचिव ने बताया..बढ़ गया जल स्तर..नोटरी नियुक्ति को लेकर भेजा जाए प्रस्ताव

बिलासपुर—- वन एवं विधि विभाग के संसदीय सचिव विधायक चंद्रदेव राय ने बिलासपुर का दौरा किया। इस दौरान संसदीय सचिव ने जगह जगह बनाए गए नरवा गरवा घुरूवा बारी योजना का निरीक्षण किया। राय ने बताया कि मुख्यमंत्री की इस महात्वाकांक्षी योजना से ना केवल जल स्तर सुधरा है। बल्कि लोगों के जीवन में बदलाव भी लाया है। 
 
                   वन एवं विधि विभाग के संसदीय सचिव चन्द्रदेव राय बिलासपुर दौरा पर पहुंचे। पत्रकारों से छत्तीसगढ़ में बातचीत की। सवालों का जवाब भी दिया। बिलासपुर पहुंचने पर चन्द्रदेव राय का स्वागत कांग्रेस विधि विभाग प्रदेश अध्यक्ष संदीप दुबे ने किया।
 
           चन्द्रदेव राय ने बताया कि वन एवं विधि मंत्री मोहम्मद कबर के निर्देश पर जशपुर, सरगुजा, सूरजपुर ,बिलासपुर के दौरा पर हूं। बिलासपुर वन क्षेत्र में किये जा रहे योजना कार्यो का निरीक्षण करने का मौका मिला। इस दौरान कार्यों को लेकर कुछ निर्देश भी दिया हूं।
 
       राय ने बताया कि ऐसे भी क्षेत्र का दौरा करने का मौका मिला। उन वन क्षेत्रों का निरीक्षण किया जहां राज्य शासन की महति योजना नरवा घुरवा बारी की योजना चल रही है। अधिकारियों ने बताया कि योजना के बाद जल संरक्षण के दिशा में अच्छा परिणाम सामने आया है। कम लागत में गेबियाँन संरचना, लूज़ बोल्डर चेक डेम, और स्टॉप डेम का बहुत ही अच्छा कार्य चल रहा है।
 
               इसका लाभ वन्य जीवों एवम वन्य रहवासियों को भी मिल रहा है। जमीन में पानी का जलस्तर भी बढ़ा है। योजना के क्रियान्यवयन से जंगल में मिट्टी की कटाव भी रोक लगेगी। 
 
नोटरी नियुक्ति की मांग
  
          विधि विभाग संसदीय सचिव से विधि विभाग प्रदेश अध्यक्ष संदीप दुबे ने इस दौरान नोटरी में नियुक्ति का मामला सामने रखा। दुबे ने बताया कि नोटरी नियुक्ति का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। साथ ही 1000 नोटरी के पद शीघ्र घोषित किया जाए। प्रदेश में तहसील उपतहसील बढ़ने से नोटरी की आश्यकता बढ़ गयी है,। संदीप दुबे ने यह भई कहा कि नोटरी नियुक्ति के समय साक्षत्कार की प्रक्रिया को समाप्त किया।
 
             राज्य में वकीलो की सुरक्षा के किये अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम  लागू करने के अलावा बीमा योजना भी चलाया जाए। संसदीय सचिव ने  ड्राफ्ट बनाकर भेजने की बात कही।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *