थोक व्यापारी से 37 लाख रूपयों की धोखाधड़ी.. बिलासपुर के व्यापारी पर हरिद्वार के व्यवसायी का आरोप..पारूल माथुर ने दिया कार्रवाई का आदेश

बिलासपुर— हरिद्वार निवासी गुड़ व्यवसायी मयंक गुप्ता ने व्यापार विहार बिलासपुर में गुड़ व्यापारी के खिलाफ 37 लाख रूपयों की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। उत्तराखण्ड हरिद्वार निवासी मयंक गुप्ता और उनके अधिवक्ता ने पुलिस कप्तान पारूल माथुर से बताया कि बिलासपुर व्यवसायी किशन लाल और उसकी पत्नी मीरा तोलानी ने चार ट्रक गुड़ लेने के बाद भी भुगतान नहीं कर रहे है। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जनदर्शन म स्थल से पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने तारबाहर थाना प्रभारी को निर्देश दिया शिकायत पर उचित कार्रवाई की जाए। 

                पुलिस कप्तान पारूल माथुर के जनदर्शन कार्यक्रम में हरिद्वार के व्यापारी ने बिलासपुर स्थित गुड़ व्यवसायी के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की है। पीड़ित मयंक गुप्ता ने बताया कि हरिद्वार जिले के मंगलौर स्थित कुमार ट्रेडिंग कम्पनी से गुड़ का थोक व्यवसाय करते है। अक्टूबर महीने में बिलासपुर निवासी किशन लाल तोलानी फर्म में आया। उसने बताया कि कमीशन एजेन्ट हैं। गुड़ अच्छी कीमत में बेचवा देगा। लेकिन कमीशन लेगा। गुड़ की बाकी कीमत भी फर्म के खाता में डलवा देगा। 

             इसके बाद कम्पनी ने 7 नवम्बर को एक ट्रक गुड़ गाड़ी नम्बर यूपी 21 एएऩ2675 से भावना ट्रेटर्स बिलासपुर भेजा। भेजे गए गुड़ की कीमत 8 लाख 80 हजार 954 है। । 10 नवम्बर को ट्रक नम्बर सीजी 04 एमजी 7968 से राधास्वामी फूड व्यापार विहार को गुड़ भेजा। गुड़ की कीमत करीब 10 लाख 7 हजार 327 रूपए है। 

                मयंक गुप्ता ने बताया कि इसी तरह गुड़ की तीसरी खेप ट्रक क्रमांक ,आरजे 11 जीबी 1946 से 11 नवम्बर को भावना ट्रेडर्स के व्यापार विहार के नाम 10 लाख 5 हजार 970 रूपए का गुड़ भेजा। गुड़ की चौथी खेप 19 नवम्बर 2021 को राधास्वामी फूड व्यापार विहार को भेजा गया। भेजे गए गुड़ की कीमत 8 लाख 67 हजार 100 रूपए है। पीड़ित ने बताया कि राधाकिशन तोलानी को कुल चार खेप में 37 लाख 61 हजार 351  रूपयों का गुड भेजा गया। 

                 पीड़ित ने बताया कि कई बार रूपए मांगने के बाद भी किशन लाल तोलानी ने आजकल पर डाल दिया। गुड़ की कीमत नहीं मिलने के बाद पिछले महीने बिलासपुर आया। इस दौरान जानकारी मिली कि किशन लाल तोलानी कमीशन एजेन्ट नहीं बल्कि फर्म के माध्यम से गुड़ समेत अन्य प्रकार के सामान का व्यवसाय भी करता है। खुद और उसकी पत्नी मीरा तोलानी के नाम पर व्यापार विहार में भावना ट्रेडर्स और राधास्वामी फूड फर्म है। 

               रूपया मांगने पर किशन लाल तोलानी ने गाली गलौच किया। धमकी देते हुए कहा कि वह रूपया नहीं देगा। जो करना है कर ले। हम नक्सली क्षेत्र के रहने वाले हैं। हमारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। और ज्यादा आवाज निकालोगे तो जान से हाथ धोना पड़ेगा। इसके बाद वह हरिद्वार लौट गया।

                मामले की शिकायत स्थानीय थाना में किया। उत्तराखण्ड पुलिस ने किशन तोलानी को  फोन भी किया। पहले तो उसने रूपया देना कबूल किया। इसके बाद उसने रूपये देने से इंकार कर दिया।

             मयंक गुप्ता और उनके वकील ने बताया कि लिखित शिकायत पुलिस कप्तान पारूल माथुर से किया है। उन्होने तत्काल तार बाहर थाना को  सूचित कर मामले का निराकरण करने को कहा है।

आदतन बदमाश व्यापारी

                      व्यापार विहार के कुछ व्यापारी और किशन लाल से सताए गए लोगों ने बताया कि किशन लाल आदतन बदमाश है। कई लोगों का रूपया दबाया है। किशनलाल के खिलाफ कई बार कई मामलों में सम्पत्ति सम्बन्धी अपराध भी दर्ज है। 

 कराया जाएगा भुगतान

            पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने बताया कि शिकायत को गंभीरता से लिया गया है। पीड़ित को तारबाहर थाना भेजा गया है। व्यापारी किशनलाल तोलानी को थाना बुलाकर रूपया भुगतान किए जाने का निर्देश दिया गाय है। प्रयास किया जाएगा कि आरोपी व्यापारी गुड़ का भुगतान करे। अन्यथा पीड़ित की मांग पर अपराध दर्ज किया जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *