गढ़वा पुलिस को मिली बड़ी सफलता,पूर्व नक्सली सब जोनल कमांडर प्रेमिका के साथ गिरफ्तार

रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी) झारखंड के गढ़वा जिला के अंतर्गत रंका प्रखंड से भाकपा माओवादी के पूर्व सब जोनल कमांडर भानु सिंह खैरवार को पुलिस ने उसकी प्रेमिका के साथ गिरफ्तार कर लिया हैं। उसके कब्जे से एके-47 राइफल और अन्य सामान बरामद किए गए हैं।आरोपी पर गढ़वा जिले के विभिन्न थाना क्षेत्र में लगभग 10 अपराधिक मामला दर्ज है।
पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा ने प्रेसवार्ता के माध्यम से बताया कि जिले के रंका,चीनिया रमकंडा के साथ पलामू जिला के निकटवर्ती चैनपुर थाना क्षेत्र में भानु की सक्रियता लगातार बढ़ रही थी उसकी गिरफ्तारी के लिए रंका एसडीओपी सुदर्शन कुमार आस्तिक के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था।

एक अक्टूबर 2016 को भानु खैरवार ने आत्मसमर्पण नीति के तहत सरेंडर किया था। उसके बाद 11 जून 2020 को वह जेल से जमानत पर बाहर आया। जेल से बाहर होने के बाद वह पुनः क्षेत्र में दहशत फैलाने का काम कर रहा था। अपराधिक गतिविधियों में उसकी संलिप्तता उजागर होने के बाद पांच जुलाई 2021 को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। करीब डेढ़ माह जेल में रहने के बाद फिर वह बाहर आया तो टीपीसी नामक संगठन बनाकर उसमें अन्य अपराधियों को जोड़ने लगा।

ठेकेदार और स्थानीय लोगों से लेवी वसूलना, न देने पर मारपीट कर जान से मारने की धमकी देकर दहशत फैलाने जैसी गतिविधियों में संलिप्त था। सीमावर्ती क्षेत्रों में उसकी सक्रियता के कारण बलरामपुर पुलिस भी सरहदी क्षेत्रों में सक्रियता बरत रही थी। गठित पुलिस टीम ने भानु के संभावित ठिकानों पर लगातार छापेमारी अभियान चलाकर उस पर दबाव बनाया और कर्री के जंगल में भानु के होने की सूचना मिली। इसके बाद इलाके में छापेमारी की गई। जंगल को चारों ओर से घेरते हुए पुलिस बल जब आगे बढ़ी तो भानु और उसकी प्रेमिका वृंदा कुमारी जवानों को देखकर भागने लगे। सुरक्षा बलों ने दौड़ाकर दोनों को धर दबोचा।उसके पास से एके -47 भी बरामद किया गया है।भानु खैरवार के पुनः अपराधिक गतिविधियों में सक्रियता से सरहदी क्षेत्रों में दहशत फैल रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *