नगोई, गनियारी में गारमेन्टस फैक्ट्री का तोहफा.. DMF से खर्च होगा 97.75 करोड़…पुराने हाईकोर्ट में खुलेगा आत्मानन्द स्कूल

Editor
4 Min Read
बिलासपुर—कलेक्टर सौरभ कुमार की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय स्थित मंथन सभागार में डीएमफ शासी परिषद की बैठक हुई। बैठक में दिग्गज जनप्रतिनिधियों ने शिरकत किया। इस दौरान बड़ी बड़ी योजनाओं पर विचार विमर्श हुआ। 95.75 करोड़ की वार्षिक कार्ययोजना का अनुमोदन भी किया गया। कलेक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री के मंशानुरूप नगोई और गनियारी में दंतेवाड़ा की तर्ज पर गारमेंट फैक्ट्री खोला जाएगा। निर्माण में करीब साढ़े 10 करोड़ खर्च होंगे। शहर के व्यस्तम मार्ग पर स्थित कलेक्टर कार्यालय के दोनो कम्पोजिट बिल्डिंग समेत न्यायालय को जोड़ते हुए फुट ओव्हरब्रिज का निर्माण कराया जाएगा।
 
 
विकास कार्य पर खर्च होगा 95.75 करोड़ रुपए
जिला खनिज संस्थान न्यास यानि डीएमएफ की मंथन सभागार कलेक्टोरेट में हुई। बैठक में  2023 – 24 में 95.75 करोड़ रुपए के विकास कार्य का फैसला लिया गया। कलेक्टर  सौरभकुमार की अध्यक्षता में आयोजित डीएमएफ शासी निकाय की बैठक में 239 कार्य प्रस्तावों का अनुमोदन किया गया। इसमें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की तरफ से भेंट मुलाकात के दौरान जिले के विकास के लिए की गई घोषणाओं को भी शामिल किया गया। मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में संसदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह, विधायक धरमलाल कौशिक,  डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, शैलेश पांडे, रजनीश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण चौहान, महापौर रामशरण यादव समेत सांसद प्रतिनिधि और जिला स्तरीय अधिकारियों ने शिरकत किया।
नगोई और गनियारी गारमेन्ट्स सिलाई फैक्ट्री
 बैठक में फैसला लिया गया गया कि नगोई और गनियारी में गारमेंट्स सिलाई फैक्ट्री की स्थापना होगी। लगभग साढ़े 10 करोड़ राशि खर्च किया जाएगा। मुख्यमंत्री बघेल ने भेंट मुलाकात अभियान के दौरान महिलाओं की मांग पर गारमेन्ट्स फैक्ट्री खोलने का एलान किया था। फैक्ट्री का संचालन बिहान की महिला स्व सहायता समूह करेंगी। दंतेवाड़ा की सफल डेनेक्स ब्रांड की तर्ज पर कारोबार किया जाएगा।
किया जाएगा फुटओव्हरब्रिज का निर्माण 
बैठक में मुंगेली रोड पर कलेक्टोरेट और जिला न्यायालय के बीच फूट ओवर ब्रिज निर्माण का भी फैसला लिया गया। स्मार्ट सिटी लिमिटेड बिलासपुर काम के लिए 78 लाख रुपए की मंजूरी दी गई। फुटओव्हरब्रिज निर्माण से लोग सुरक्षित तरीके से कोर्ट और कलेक्टोरेट आ जा सकेंगे। दुर्घटना की आशंका नहीं रहेगी। मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप तोरवा छठघाट में टेलरिंग शेड निर्माण के लिए 3 करोड़ 32 लाख दिया गया।
पुराने हाईकोर्ट भवन में खुलेगा आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल
बैठक में फैसला लिया गया कि बिलासपुर शहर में अंग्रेजी माध्यम स्वामी आत्मानंद कॉलेज के लिए 5 करोड़ खर्च किया जाएगा। स्कूल शहर के मध्य पुराने हाईकोर्ट भवन में खोला जाएगा। बैठक में जिले की सभी विकासखंडों और विधानसभा क्षेत्रों में जनप्रतिनिधियों की सुझाव और  आम जनता की मांग के अनुरूप प्रस्तावों की स्वीकृति दी गई। शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़े कामों को प्राथमिकता दी गई।  बैठक के पहले  शासी परिषद के सचिव और जिला पंचायत सीईओ आर ए कुरुवंशी ने सदस्यों का स्वागत किया। डीएमएफ प्रभारी संयुक्त कलेक्टर वैभव क्षेत्रज्ञ ने आभार जाहिर किया।
close