मेरा बिलासपुर

अमर अग्रवाल ने दिया एक सप्ताह का अल्टीमेटम,आंदोलन की चेतावनी,कहा-सरकार वादा निभाये,कुर्क करे सहारा की संपत्ति

बिलासपुर। भारतीय जनता पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने आज वाजपेयी मैदान में सहा सहारा इंडिया चिटफंड में निवेशकों के साथ विशाल धरना प्रदर्शन किया। उपस्थित सैकड़ों लोगों को पूर्व मंत्री और भाजपा नेता अमर अग्रवाल ने संबोधित किया। इस दौरान पूर्व मेयर किशोर राय समेत भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष रामदेव कुमावत,पूर्व महापौर विनोद सोनी समेत भाजपा के दिग्गज नेता भी मौजूद थे।

अपने संबोधन में अमर अग्रवाल ने कहा कि सभी माता-पिता अपने बच्चों के भविष्य को लेकर चिंतित रहते है। यही कारण है कि माता-पिता अपने बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए एक एक पाई संचित करते हैं । बुढ़ापा अच्छे से बीते इसलिए वर्तमान की कठिनाइयों का सामना करते हुए भविष्य को संवारने रूपया जमा करते हैं । मानव का स्वभाव होता है कि निवेश कर अधिक रुपया कमाए। 

 लेकिन सहारा इंडिया जैसे चिटफंड कंपनियों ने छोटे छोटे भोले भाले निवेशकों को धोखा दिया है। अमर ने कहा की चुनाव के समय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी ने घोषणा पत्र में कहा कि निवेशकों से रुपया लौटाकर लाया जाएगा।

कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणापत्र में एलान किया था कि सरकार बनते ही चिटफंड कंपनियों के डायरेक्टरों को गिरफ्तार किया जाएगा । संपत्तियों को राजसात कर सभी निवेशकों को लौटाया जाएगा । सरकार को अब पूरे 4 साल हो गए हैं। आज तक सहारा इंडिया का एक भी डायरेक्टर या एजेंट को गिरफ्तार नहीं किया गया है ।

 आए दिन गरीब निवेशक गुहार लगा रहे हैं। लेकिन उन्हें कहीं से भी राहत नहीं मिल रही है । अमर ने कहा की अब सभी निवेशकों ने आरपार का फैसला किया है। सरकार पर दबाव बनाकर एजेंटों और डायरेक्टरों के गिरफ्तारी के लिए आंदोलन चलाने का एलान किया है। अमर ने कहा कि सरकार घोषणा पत्र में किए गए वादे को पूरा करें । सहारा इंडिया के दलाल एजेंट और डायरेक्टरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए । संपत्ति  कुर्क कर गरीबों को लौटाया जाए । 

138 शिक्षकों पर कार्रवाई की लटकी तलवार… DEO ने नोटिस जारी कर जवाब किया तलब

       पूर्व मंत्री ने दोहराया कि आंदोलन में शामिल होने से पहले कुछ दलाल किस्म के लोगो ने संपर्क किया। दलालो ने दबाव बनाया कि आंदोलन में शामिल ना हो। क्योंकि  इससे उनको नुकसान होगा। अमर ने बताया कि तत्काल सभी एजेंटों को फटकार कर वापस कर दिया। भाजपा ने फैसला किया है कि यदि निवेशकों का रुपया नही लौटाया गया तो  सभी दलालों के घर के सामने धरना प्रदर्शन करेंगे। 

 बाजपेयी मैदान में धरना प्रदर्शन के बाद सहारा इंडिया के  सैकड़ों निवेशक, भाजपा कार्यकर्ता और नेता रैली की शक्ल में कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे । इस दौरान अमर अग्रवाल ने जिला प्रशासन को बताया कि सरकार अपने वादे को निभाए । सभी चिटफंड कंपनियों की संपत्ति को जब्त कर डायरेक्टर को जेल भेजें । निवेशकों का पैसा लौटाए । यदि एक सप्ताह के भीतर शासन ने पीड़ितों की मांग को पूरा नहीं किया तो उग्र आंदोलन करेंगे। इसके लिए शासन और प्रशासन जिम्मेदार होगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS