मेरा बिलासपुर

पूर्व CM ने की कोरोना काल मे शुरू इस योजना को बंद नहीं करने की मांग

लखनऊ-उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने केन्द्र सरकार को मंहगाई का हवाला देकर काेरोना काल में शुरु की गयी ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न याेजना’ के तहत गरीबों को मिलने वाले मुफ्त राशन को बंद नहीं करने की मांग की है।मायावती ने रविवार को कहा कि यदि मुफ्त राशन के वितरण को बंद किया गया तो यह गरीबों के प्रति अन्यायपूर्ण होगा।उन्होंने ट्वीट कर कहा, “देश की विशाल आबादी जबर्दस्त महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी आदि की समस्या से आज भी लगभग वैसी ही दुःखी व त्रस्त है जैसे कोरोनाकाल से ही झेलने को मजबूर है। अतः पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मिलनेे वाला मुफ्त राशन बंद करकेे इनके मुँह का निवाला छीनना अनुचित व अन्यायपूर्ण होगा।”

गौरतलब है कि केन्द्र एवं राज्य सरकारों ने इस योजना को तीन महीने के लिये बढ़ाकर इसकी मियांद सितंबर तक कर दी थी। तमाम राज्य सरकारें इस योजना को और अागे बढ़ाने का केन्द्र सरकार पर दबाव डाल रही हैं।मायावती ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “यही मुख्य कारण है कि विभिन्न राज्यों की सरकारें इस अन्न योजना को सितम्बर महीने के बाद आगे और भी समय तक जारी रखने का दबाव केन्द्र सरकार पर बना रही हैं। वैसे भी केन्द्र की सरकार को, व्यापक जनहित के मद्देनजर, इस पर समुचित व सहानुभूतिपूर्वक ध्यान जरूर देना चाहिए, बीएसपी की यह माँग।”

VIDEO-इस सरकार ने मजदूरो को दिया तोहफा,बढ़ाई न्यूनतम मजदूरी
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS