सरकार की वादा ख़िलाफ़ी और मांगें पूरी करने का झूठा प्रचारः 10 दिसंबर से रायपुर में दिन-रात धरना प्रदर्शन करेंगे पूरे छत्तीसगढ़ के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता/सहायिका

बिलासपुर ।राज्य.सरकार के वादा खिलाफी और मांग पूरा करने की झूठी प्रचार के विरोध और सुपरवाईजर के रिक्त पद पर बिना उम्र बंधन और परीक्षा के कार्यकर्त्ताओ को सुपरवाईजर बनाये जाने के साथ ही साथ अन्य आठ सूत्रीय मांगो के समर्थन मे छत्तीसगढ़ आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता सहायिका संघ द्वारा 10 से 16 दिसंबर तक रात और दिन का निश्चत कालीन धरना दिया जायेगा। जो छत्तीसगढ़ के इतिहास मे रात और दिन का अपने आप मे महिलाओं का यह एक अनोखा धरना प्रदर्शन होगा।
संघ के प्रान्ताध्यक्ष सरिता पाठक और प्रान्तीय सचिव सुमन यादव रायपुर द्वारा संयुक्त विज्ञप्ति मे बताया गया कि 22 सितंबर से संघ द्वारा उक्त मांगो की पूर्ति हेतु संचालक,सचिव,मंत्री और मुख्य मंत्री के साथ ही साथ सभी मंत्री,विधायक, सांसदो को भी ज्ञापन दिया गया। लेकिन अभी तक सार्थक पहल नही किया गया है और न ही शासन प्रसाशन दोनो ही स्तर से कोई वार्त्ता के लिये बुलाया गया है । इस तरह के उपेक्षा पूर्ण रवैय्या से कार्यकर्त्ता सहायिकाओं मे काफी आक्रोष ब्याप्त है।
राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा जन घोषणा पत्र मे यह कहा गया था कि हमारी सरकार आने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को नर्सरी शिक्षक मे उन्नयन करेंगे और कलेक्टर दर पर वेतन देंगे। घोषणा पत्र के एक शब्द की पूर्ति अब तक़ नहीं की गई है। जब़क़ि तीन साल होने को है…। और उल्टा सरकार औऱ मुख्यमंत्री अपना और अपने पार्टी अध्यक्ष के फोटो के साथ यह झूठी प्रचार कर रहे है कि हमने जो कहा सो किया । यह कह रहे है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ताओ का मानदेय बढ़ा दिया गया है और घोषणा पूरा कर दिया गया है । लेकिन कार्यकर्त्ताओं को बढ़ा मानदेय का ना तो अभी तक आदेश मिला है और ना ही बढ़ा मानदेय…..।साथ में यह भी स्पष्ट नही है कि बढ़ा है तो प्रति माह कितना बढ़ाया गया ।
संघ पदाधिकारियो द्वारा सरकार पर यह भी आरोप लगाया जा रहा है सरकार आगंनबाडी कार्यकर्त्ता सहायिकाओ का शोषण कर रही है ।10-से 12 घन्टा काम ले रहीहै। काम के अलावा आर्थिक शोषण भी कर रही है। मोबाईल.नेट और आनलाईन जानकारी भरने हेतु हर माह अपने मान देय से 500- 1000/- लग जा रहा है ।जो सरकार से नही मिलता ।जिसकी जानकारी विभाग के सभी अधिकारी और मंत्री को भी है। इसके बाद भी सब मौन है.और गुलाम तथा बंधुवा मजदुर की तरह काम ले रहे है।
उक्त सभी मुद्दो को लेकर संघ द्वारा 10 से 16/ दिसंबर तक प्रदेश के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रो का सभी कार्य ठप्प करते हुये केन्द्र बंद कर दिया जावेगा और प्रदेश के एक लाख आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता /सहायिकायें हड़ताल पर रहेंगे ।हजारो की संख्या मे राजधानी रायपुर बुढ़ातालाब मे पहुंचकर रात दिन वही रहकर सरकार को जगाने का काम करेगी।
सुचिता शर्मा , परियोजना अध्यक्ष तखतपुर इंद्राणी साहू , सचिव सूनीता साहू कोषाध्यक्ष,सीमा यादव प्रवक्ता परियोजना शाखा तखतपुर ने सभी कार्यकर्ता और सहायिकाओं से धरना प्रदर्शन में हिस्सेदारी की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *