राज्यपाल ने किया एक दर्जन से अधिक महिलाओं का सम्मान..कहा..अंतर्राष्ट्रीय फलक पर नारियों ने बनायी पहचान..चट्टान की तरह रखें आत्मविश्वास

बिलासपुर–-राज्यपाल अनुसुइया उइके ने कहा..नारी जब मजबूत होगी..वह समाज और संस्कार के निर्माण में विकास ही गढ़ेगी। यह बाते उन्होने  हाईकोर्ट के सामने आयोजित निजी होटल में नारी सम्मान कार्यक्रम के दौरान कही। सुश्री उईके ने कहा.. आज हर क्षेत्र में अपनी सशक्त उपस्थिति से मिसाल गढ़ा है। क्योंकि नारियों में चट्टान की तरह आत्मविश्वास कूट कूट कर भरा है। 
                         राज्यपाल सुश्री अनसुईया उईके ने हाईकोर्ट के सामने स्थित निजी हॉटल में नारी सम्मान कार्यक्रम में शिरकत किया। इस अवसर पर राज्यपाल ने अपनी संघर्ष की कहानी को सबके सामने रखा। उन्होंने बताया कि आज नारी समाज ने राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर अपनी विशिष्ट पहचान बनायी है। समाज में फैली सदियों पुरानी कुरीतियों को तोड़ा भी है। कार्यक्रम में अटल बिहारी वाजपायी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.वाजपेयी, संभागायुक्त डॉ.संजय अलंग, और रेंज पुलिस महानिरीक्षक रतनलाल डांगी विशेष रूप से मौजूद हुए। इस दौारन राज्यपाल ने एक दर्जन से अधिक महिलाओं को क्षेत्र विशेष में बेहतर काम किए जाने को लेकर सम्मानित भी किया।
 
         मुख्य अतिथि राज्यपाल अनुसइया उईके ने उपस्थित महिलाओं को संबोधित किया। उपस्थित सभी सभी महिलाओं को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि महिलाएं सभी क्षेत्रों में अच्छा कार्य कर रही है। हर क्षेत्र में अपनी सशक्त उपस्थिति दर्ज कराकर मिथकों को तोड़ा है। राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है। इस दौरान राज्यपाल ने अनेक विदुषी महिलाओं समेत अपने संघर्ष की मिसाल दिय। उन्होने कहा कि पल प्रति पल हमें अपने सपनों को साकार करने के लिए लड़ना पड़ता है।
 
                मुसीबतों का सामने करने से घबराना नहीं है। आत्मविश्वास चट्टानों की तरह मजबूत रखना चाहिए। मजबूत और बेहतर समाज में महिलाएं नींव का कार्य करती है। महिलाएं जितनी मजबूत होगी, परिवार और समाज भी उतना मजबूत होगा। इच्छा शक्ति प्रबल हो तो, आप को आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता। जीवन में हमेशा सकारात्मक रवैया अपनाना चाहिए।
 
             राज्यपाल ने बिलासपुर पुलिस कप्तान पारूल माथुर, चौकसे इंजीनियरिंग कॉलेज की डॉयरेक्टर पलक जायसवाल, पं. सुंदरलाल शर्मा मुक्त विश्वविद्यालय की सचिव डॉ. इंदू अनंत, कैपेलो सैलून की डॉयरेक्टर शोभा पाठक, छ.ग. ग्राम एकता मंच की जिलाध्यक्ष विजया रानी, जिला पंचायत मुंगेली की सदस्य शीलू साहू, प्रजापिता ब्रम्हकुमारी बिलासपुर संस्थान की प्रभारी स्वाति दीदी, चैतन कॉलेज की प्रोफेसर डॉ. शैली ओझा, सामाजिक कार्यकर्ता मोनिका इजारद, निदान संस्थान की डायरेक्टर डॉ. सुषमा सिंह, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. उज्जवला करारे और बचपन प्ले स्कूल की डायरेक्टर डॉ. किरण सिंह को सम्मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *