फर्जी दस्तावेज तैयार कर हड़प लिया दूसरे की जमीन.. परिवार के चार सदस्यों पर गिरी गाज.. फरार सरगना प्रशांत गुलहरे गिरफ्तार..न्यायिक रिमाण्ड पर गया जेल

बिलासपुर—-सरकण्डा पुलिस ने कूटरचना कर जमीन के दस्तावेजों से खिलवाड़ करने वाले जमीन माफिया प्रशांत गुलहरे को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार प्रशांत गुलहरे पर आरोप है कि सरकारी और गैर सरकारी जमीनों की फर्जी दस्तावेज के सहारे खऱीदी बिक्री करता है।आरोपी को आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471, 34 का अपराध दर्ज कर न्यायालय के हवाले किया गया है। पुलिस के अनुसार प्रशांत गुलहरे के पहले कूटरचना कर जमीन खरीदी बिक्री के आरोप में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।
 
अब तक गिरफ्तार किए गए आरोपियों का नाम
1) प्रशांत गुलहरे पिता स्व घनश्याम गुलहारे निवासी टिकरापारा मन्नू चौक थाना सिटी कोतवाली बिलासपुर
2) सुशांत गुलहरे पिता स्वं धनश्याम गुलहरे निवासी टिकरापारा मन्नू चौक थाना सिटी कोतवाली
3) किरण गुलहरे पति स्वं धनश्याम गुलहरे निवासी टिकरापारा मन्नू चौक थाना सिटी कोतवाली बिलासपुर छ0ग0
4) स्वाति गुप्ता पति प्रतीक गुप्ता उम्र 37 साल निवासी नुसरतपुरा पोस्ट आफिस गली गाजियाबाद
 
            सरकन्डा पुलिस के अनुसार मनीषा देश पाण्डेय ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि संयुक्त खाते की भूमि मौजा मोपका में है। जमीन खसरा  नम्बर 1305, 1306, 1308 / 1 व 1331 है। प्रशांत गुलहरे ने अपने पिता घनश्याम गुलहरे के नाम पर जिला पंजीयन कार्यालय के अधिकारियों  से सांठ गांठ और कूटरचना कर विक्रय पत्र की सत्यापित प्रति तैयार किया।
 
           तैयार फऱ्जी दस्तावेज में बताया गया कि उसके दादा स्वर्गीय पुरूषोत्तम राव दिघ्रस्कर ने बतायी गयी जमीन को घनश्याम गुलहरे 26.03.1962 में बिकी किया है। जबकि उनके पास उक्त कूटरचित विक्रय पत्र की मूल प्रति नही है। और ही  कभी किसी स्थान पर कोई संव्यवहार ही किया गया है। कूटरचित दस्तावेज के आधार पर प्रशांत गुलहरे ने नामांतरण के बाद जमीन पर कब्जा किया है। 
 
                 शिकायत के बाद पुलिस ने मामले को विवेचना में लिया। जांच पड़ताल के बाद घनश्याम गुलहरे, प्रशांत गुलहरे और परिवार के सदस्यों के खिलाफ अपराध कायम किया। मामले में सुशांत गुलहरे, किरण गुलहरे और स्रवाति गुप्ता को गिरफ्तार कर जेल भेजा। जबकि फरार आरोपी प्रशांत गुलहरे की लगातार पतासाजी की जा रही थी। पुलिस ने एक दिन पहले प्रशांत गुलहरे को हिरासत में लेकर पूछताछ के बाद न्यायालय के हवाले किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.