आबकारी टीम पर जानलेवा हमला…कई कर्मचारी घायल ..दारोगा को पीटा..जान से मारने की धमकी..महिलाओं ने तोड़फोड़ कर सरकारी गाड़ी को बनाया कबाड़..मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर— सीपत थाना क्षेत्र स्थित ग्राम भिल्मी में छापामार कार्रवाई के दौरान महिलाओं ने आबकारी टीम पर सामुहिक जानलेवा हमला किया है। पुलिस के अनुसार महिलाओं ने आरोपी के उकसावे पर बकारी टीम पर जानलेवा हमला किया है। हमले के दौरान कई कर्मचारियों को चोट पहुंची है। महिलाओं ने सरकारी गाड़ी में भी  बुरी तरह से तोड़फोड़ किया है। शिकायत के बाद सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 186, 332,353,147, 148, 427 का अपराध दर्ज हुआ है। मुख्य आरोपी सुमित वर्मा को गिरफ्तार कर न्यायालय के हवाले किया गया है।
 
               सीपत पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आबकारी उप निरीक्षक प्रदीप वर्मा सीपत वृत ने मारपीट का रिपोर्ट दर्ज कराया है। शिकायत में प्रदीप वर्मा ने बताया कि 23 नवम्बर को पुख्ता जानकारी के बाद ग्राम भिल्मी में सुमित वर्मा के ठिकाने पर आबकारी टीम ने धावा बोला गया। खबर मिली थी सुमित वर्मा ना  केवल शराब की अवैध बिक्री करता है। बल्कि महुआ शराब बनाता भी है।
 
                   छापामार कार्रवाई के दौरान सुमित वर्मा के ठिकाने से करीब 85 लीटर से अधिक मात्रा में महुआ शराब बरामद किया गया। आबकारी टीम की कार्रवाई से अफरा-तफरी मच गयी। कार्रवाई से बचने आरोपी सुमित वर्मा ने आसपास की महिलाओं को एकत्रित किया। बहुत अधिक संख्या में एकत्रित महिलाओं ने सुमित वर्मा के उकसावे पर आबकारी उप निरीक्षक आनंद वर्मा, मुकेश पाण्डेय, रमेश दुबे, एश्वर्या मिंज, आबकारी मुख्य आरक्षक जनक राम जगत, आबकारी आरक्षक अनिल पाण्डेय, निरंजन डलसेना, कल्याण कहरा, प्रभुवन बघेल और उपेन्द्र सिंह पर हमला कर दिया। 
 
                           इस दौरान आबकारी टीम के सदस्यों के साथ महिलाओ की जमकर झूमा झटकी हुई। आरोपी सुमित वर्मा को गिरफ्तार नहीं करने का दबाव बनाया। महिलाओं ने लाठी  से हमला भी किया। हमले में टीम के कई सद्स्यों को चोट पहुंची है। महिलाओं ने विभाग की सरकारी गाड़ी क्रमांक सीजी 10 डब्लू 7719 स्कार्पियो पर लाठी और पत्थर हमलाकर बुरी तरह से तोड़फोड़ा है।
 
           हमले में शामिल स्थानीय महिला अनुराधा सुर्यवंशी, जीतु वर्मा, सीमा वर्मा, अंजनी वर्मा, दिव्यानी वर्मा, सुनिता वर्मा ने वाहन को बुरी तोड़ा है। स्कार्पियों के पीछे का ग्लास, बैक लाइट, स्पाइरल और साइड मिरर चकनाचूर हो गया है।
 
                 शासकीय कार्य में सुमित वर्मा और महिलाओं ने बाधा डाला है। आबकारी आरक्षक उपेन्द्र सिंह का कालर पकड़कर सुमित वर्मा ने मारपीट किया है। साथ ही धमकी दिया कि  कोई कुछ नहीं उखाड़ सकते। सभी को यहीं मौत के घाट उतारकर जमीन में दफना देगा।
 
                   रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए आरोपी सुमित वर्मा को गिरफ्तार न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल कराया गया है। सीपत पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही रिपोर्ट में दर्ज किए गए आरोपी महिलाओं अनुराधा सुर्यवंषी, जीतु वर्मा, सीमा वर्मा, अंजनी वर्मा, दिव्यानी वर्मा, सुनिता वर्मा को भी गिरफ्तार किया जाएगा।
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *