स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव की आनलाइन बैठक.बदले हालात में सिम्स को सौगात..शिफ्टिंग का आदेश

बिलासपुर—  प्रदेश स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने सिम्स प्रबंधकारिणी समिति सामान्य सभा की बैठक को वीडियो कान्फ्रेसिंग से बंधोधित किया। बैठक में सिम्स महाविद्यालय और अस्पताल के वार्षिक स्वशासी बजट के अलावा प्रबंधकारिणी सभा में पारित निर्णय पर चर्चा और अनुमोदन किया गया।
 
             बैठक में बिलासपुर विधायक शैलेष पाण्डेय, स्वास्थ्य सचिव रेणु जी. पिल्ले, संभागायुक्त डाॅ. संजय अलंग, संचालक चिकित्सा शिक्षा डाॅ. आर.के.सिंह, कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर, सिम्स डीन डाॅ. तृप्ति नगरिया और संबंधित अधिकारी शामिल हुए। 
 
                 सिम्स के डीन ने प्रबंधकारिणी समिति की बैठक का पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।उन्होंने बताया कि सिम्स में आदर्श सेवा नियम 2019 लागू करने का निर्णय लिया गया है। परिसर में स्थित धर्मशाला और दाल-भात केन्द्र में आपात चिकित्सा शाखा को स्थानांतरित करने का फैसला हुआ है। कार्यवाही अपेक्षित है। सिंहदेव ने संभागायुक्त को एक हफ्ते में इस पर कार्यवाही करने को कहा। उन्होंने कहा कि धर्मशाला व्यवसायिक उद्देश्य के लिए संचालित न हो।
 
                                परिसर में स्थापित मंदिर को शांतिपूर्ण और सहमति से अनियत्र स्थापित किया जाए। जन सहयोग से मंदिर का पुनः निर्माण किया जाए। प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए आधारभूत पाठ्यक्रम कोर्स प्रारंभ किया जाएगा। शिक्षकों की व्यवस्था अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय से की जायेगी।
 
       डीन ने बताया कि सिम्स अस्पताल बिस्तरों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए मैकेनाईस्ड सेंट्रल लाण्ड्री स्थापित करने की आवश्यकता है। इसके लिए डीएमएफ मद से स्वीकृति के लिए प्रस्ताव भेजने का निर्देश सिंहदेव ने दिया। सिम्स में डम्प लिफ्ट स्थापित करने के लिए भी प्रस्ताव भेजा गया है। चिकित्सालय के सिवरेज की समस्या के निदान हेतु सीजीएमएससी को जिम्मेदारी देने का निर्देश दिया गया। एमआरआई मशीन की स्थापना के लिए केबल लाईन बिछाने, थर्ड फ्लोर में स्थापित 100 बेड के आइसोलेशन वार्ड में सुविधाओं के लिए व्यय की गई राशि के लिए कार्योत्तर स्वीकृति बैठक में दी गई।
 
            बैठक में इसके अलावा अन्य मुद्दों पर भी चर्चा कर निर्णय लिये गये। अस्पताल में सुरक्षा उपकरण और महाविद्यालय में लिफ्ट स्थापना, छात्रावास और स्कील लैब में सीसीटीवी कैमरा और कम्प्यूटर नेटवर्किंग एवं छात्रावास में विभिन्न सुविधाओं के लिए प्रस्ताव दिए गए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वशासी समिति के पास उपलब्ध फंड के बेहतर उपयोग के लिए कार्ययोजना बनाएं। वर्तमान में सिम्स में 750 बेड उपलब्ध और बेड की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। पदों की स्वीकृति के लिए शासन को प्रस्ताव प्रेषित करने का निर्णय लिया गया।
 
               सिम्स में वाहन पार्किंग की समस्या को दूर करने के लिए कलेक्टर को निर्देशित किया गया। बैठक में सिम्स के अधिकारी तथा सामान्य सभा के अन्य सदस्य उपस्थित थे। 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *