मेरा बिलासपुर

शिक्षा क्षेत्र में सेवा देने वाले 51 लोगों का सम्मान

कोण्डागांव/ राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के निर्देशानुसार कलेक्टर एवं अध्यक्ष कार्यकारिणी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण दीपक सोनी के मार्गदर्शन में 08 से 14 सितम्बर तक पूरे जिले में अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता सप्ताह का आयोजन किया गया था। जिसके अंतिम दिवस में बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला पंचायत उपाध्यक्ष एवं अध्यक्ष शिक्षा समिति भगवती पटेल एवं सीईओ जिला पंचायत प्रेम प्रकाश शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक पटेल, डीएमसी महेंद्र पांडे, जिला परियोजना अधिकारी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण वेणुगोपाल राव, शिक्षकों, स्काउट कैडेट, एनसीसी कैडेट, एनएसएस, महाविद्यालय एवं लाइवलीहुड कॉलेज के छात्र-छात्राओं की उपस्थिति में साक्षरता सम्मान समारोह 2022 का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि भगवती पटेल ने बेटियों की शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि बेटियों को पढ़ा कर देश को साक्षर समाज बनाने में युवा वर्ग को सामने आना चाहिए। तत्पश्चात मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि युवाओं को आगे बढ़ने के बारे में सोचना चाहिए तथा समाज को आगे बढ़ाएं और खुद भी आगे बढ़े।

जिला परियोजना अधिकारी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण वेणुगोपाल राव द्वारा साक्षरता सप्ताह का प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए साक्षरता के लिए वातावरण तैयार करने के लिए प्रत्येक दिवस की गतिविधियों को प्रतिवेदन में समाहित किया गया। साक्षरता अभियान के अंतर्गत अध्यापन कार्य कराने वाले जिले के 25 स्वयंसेवकों को राज्यस्तर से मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री एवं शिक्षा सचिव द्वारा चयनित तथा जिले में साक्षरता को बढ़ावा देने हेतु वातावरण निर्माण में सराहनीय कार्य करने वाले कोण्डागांव जिले के 26 समाजसेवी, शिक्षक, पिरामिल फाउंडेशन, युवोदय कोंडानार, स्काउट, एनसीसी, एनएसएस, संकुल समन्वयकों को लेखनी एवं प्रशस्ति पत्र भेट कर सम्मानित किया गया।
इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी अशोक पटेल ने युवाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि समाज के विकास करने हेतु मेहनत करने की आवश्यकता है तथा कोण्डागांव जिले को अशिक्षा के बंधन से मुक्त करना हम सभी की जवाबदारी है।

पेंशन अधिकार सभा 26 सितंबर को बिलासपुर में,NOPRUF की बैठक में आगामी रणनीति पर होगी चर्चा

आज हमें इंटरनेट से अनेक जानकारी प्राप्त होती है। जिससे युवा वर्ग को समाज के विकास एवं देश के विकास में इंटरनेट का उपयोग करना चाहिए। साक्षरता लोगों को दायरा से आगे ले जाता है। उन्होंने कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि साक्षरता अभियान में सभी की सहभागिता एवं सहयोग की आवश्यकता है। अंत में सभी उपस्थित सदस्यों को उन्होंने संकल्प दिलवाया। जिसमें उन्होंने प्रत्येक वर्ष 10 असाक्षरों को साक्षर कराने की शपथ दिलाई।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS