मुख्यमंत्री के हाथों सिम्स चिकित्सक का सम्मान… डॉक्टर आरती पाण्डेय ने बताया..यादगार लम्हा.. हमने उठाया है मरीजों की सेवा का हलफनामा

बिलासपुर— पिछले दिनों विश्व चिकित्सक दिवस यानि एक जुलाई को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गरिमामय कार्यक्रम  के दौरान सिम्स की वरिष्ठ चिकित्सक डॉ.आरती पाण्डेय को विशेष रूप से सम्मानित किया है। कार्यक्रम का आयोजन मुख्यमंत्री आवास पर ही किया गया था। इस दौरान प्रदेश के मुखिया बघेल ने कोरोना काल के दौरान डॉ.आरती पाण्डेय के विशिष्ट सेवा की जमकर तारीफ की। उन्होने कहा आरती पाण्डेय के योगदान को निश्चित रूप से किसी भी काल या समय में हमेशा याद किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रदेश के वरिष्ठ चिकित्सकों के अलावा प्रदेश सरकार के मंत्री और अधिकारी भी मौजूद थे।
                पिछले दिनों एक जुलाई यानि विश्व चिकित्सक दिवस पर रायपुर स्थित मुख्यमंत्री आवास में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अपने संक्षिप्त भाषण में कोरोना काल के दौरान चिकित्सकों के विशेष योगदान को दिल से याद किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना और मौत के बीच खड़ी डॉक्टरों की अभेद टीम ने पीड़ितों को नया जीवन दिया है। डॉक्टरों की इस योगदान को किसी काल या समय में भुलाया नहीं जा सकता है।
             इस दौरान मुख्यमंत्री ने सिम्स की वरिष्ठ चिकित्सक और प्राध्यापक नाक,कान,गला रोग विशेषक्ष आरती पाण्डेय को सम्मानित किया। उन्होने कोरोना काल के दौरान किए गए आरती पाण्डेय के सेवा भाव और कार्यों की जमकर तारीफ की। मुख्यमंत्री ने कहा कि घर परिवार की जिम्मेदारी निभाने के साथ डॉ.आरती पाण्डेय ने मरीजों को बचाने जो कुछ भी किया वह अविष्मरणीय है। 
                     गरिमामयी कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने डॉ. आरती पाण्डेय को प्रशस्ति पत्र भेंट किया। साथ ही कोरोना मरीजों के प्रति किए गए उनके समर्पित कामकाज और योगदान को जमकर सराहा। 
                 सम्मानित होने के बाद डॉ.आरती पाण्डेय ने बताया कि मुख्यमंत्री के हाथ से सम्मानित होने का पल बहुत ही गर्व प्रदान करने वाला रहा। उन्होने एक चिकित्सक होने के नाते जो कुछ भी किया..उनके कामकाज का हिस्सा था। हमने मेडिकल की डिग्री लेते समय शपथ लिया है कि मरीजों के प्रति हमेशा पारिवारिक वातावरण बनाकर रखे। उनकी समुचित इलाज और सेवा ही हमारी जिम्मेदारी है। आरती पाण्डेय ने बताया कि जब मरीज ठीक होकर घर लौटता है तो सबसे ज्यादा खुशी डाक्टरों को होती है। कोरोना काल के दौरान मैने जो कुछ भी किया..निश्चित रूप से वह हमारी जिम्मेदारी है। और इसके अलावा कुछ नहीं….।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *