मेरा बिलासपुर

IAS की बढ़ गयी मुसीबत…376 के बाद एट्रोसिटी का अपराध दर्ज..पुलिस कप्तान ने दी जानकारी

बिलासपुर—- जांजगीर के पूर्व कलेक्टर जनक पाठक फिलहाल फरार है। पाठक के खिलाफ बलात्कार के मामले में 4 जून को अपराध दर्ज किया था। अब महिला की जातिगत दस्तावेज खंगाले जाने और शिकायत पर एट्रोसिटी का भी अपराध दर्ज कर लिया गया है। यह जानकारी जांजगीर पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने दीसीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

              बताते चलें कि जांजगीर जिले की एक पूर्व जनपद सदस्य महिला ने तात्कालीन जांजगीर जनक राम पाठक के खिलाफ बलात्कार का अपराध दर्ज कराया था। महिला की शिकायत और पुख्ता प्रमाण मिनले के बाद जांजगीर पुलिस कप्तान के निर्देश पर 4 जून को पाठक के खिलाफ 376, 509 ख, और 506 के तहत अपराध दर्ज किया गया।

                  महिला ने आरोप लगाया था कि तात्कालीन कलेक्टर पाठक ने 15 मई को चैम्बर में एनजीओ में काम दिलाने के बहाने रेप किया। साथ ही धमकी भी दी थी कि पति को नौकरी से बर्खास्त कर देंगे। जनक पाठक के स्थानांतरण के बाद महिला ने प्रमाण के साथ कलेक्टर यशवंत कुमार से शिकायत की। शिकायत सही पाए जाने पर पारूल माथुर के निर्देश पर अपराध दर्ज किया गया।

                   पारूल माथुर ने बताया कि जनक पाठक के बाद अलग से एफआईआर दर्ज नहीं किया गया है। महिला ने अपना दस्तावेज दिखाया। छानबीन के बाद पाठक की पहली एफआईआर में एट्रोसिटी का अपराध दर्ज किया गया है। बहरहाल पुलिस पाठक की तलाश कर रही है।                    

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS