आईजी वाट्सअप पर भी सुनेंगे समस्या..सिरगिट्टी में चलित थाना का हुआ…जोशिला स्वागत..ग्रामीणों ने कहा..अपराधियों के..अब हौसलें होंगे पस्त

बिलासपुर—-सिरगिट्टी पुलिस ने चलित थाना सह चलित पुलिस सहायता केंद्र लगाकर आम जनता के साथ सीधा संवाद किया। साथ ही उपस्थित लोगों की समस्याओं को ना केवल सुना बल्कि  त्वरित निराकरण भी किया है।लोगों ने पारिवारिक और पति पत्नी से जुड़ी विवादों को भी पुलिस के सामने रखा।   
 
                  पुलिस कप्तान दीपक कुमार झा के निर्देश पर जिले के सभी थाना प्रभारियों ने अपने क्षेत् रमें चलित थाना लगाया। लोगों की समस्याओं को सुना और यथा संभव निराकरण भी किया।
 
        सिरगिट्टी पुलिस ने थाना प्रभारी फैजूल होदा शाह की अगुवाई में ग्रामीण क्षेत्र पोड़ी और शहरी क्षेत्र सिरगिट्टी वार्ड नम्बर 10 में चलित थाना लगाया ।  थाना प्रभारी,,वार्ड संगी और बिट प्रभारी उपस्थित होकर आम लोगो की समस्या को विस्तार से सुना।  लोगों ने घरेलु विवाद, पति पत्नी के झगड़े और सामान्य मारपीट के प्रकरण को पुलिस के सामने रखा।
 
          चलित थाना शिविर में कुछ लोगो ने क्षेत्र में पेट्रोलिंग बढ़ाने का आग्रह कियार। इस दौरान पुलिस ने क्षेत्र में अवैध गतिविधियों में संलिप्त व्यक्तियों की सूचना देने का आम जनता से निवेदन किया।  साथ ही पुलिस के चलित थाना लगाए जाने का स्वागत भी किया। स्थानीय लोगों ने बताया कि पुलिस चलित थाना के माध्यम से आम जनता के बीच उपस्थित रहेगी। इससे अपराधियों के हौसले पस्त होंगे।
 
आईजी ने कहा..मोबाइल भेजे समस्या
 
        आईजी रतनलाल डांगी ने कहा कि जिन्हें जनदर्शन में अपनी बातों और समस्याओं को रखने में संकोच है। ऐसे लोग अपनी समस्यायों को मोबाइल पर भी लिखकर भेज सकते हैं। उनकी समस्याओं को गंभीरता से लिया जाएगा।
 
              पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि हर महीने की पहली और पंद्रह तारीख को संभाग के फरियादियों की पुलिस विभाग से जुड़ी समस्याओं को सुनने अपने कार्यालय में उपस्थित रहेंगे। 11 बजे से 3 बजे तक कोई भी व्यक्ति पुलिस विभाग से संबंधित कोई समस्या को लेकर मिल सकता है। यदि कोई कार्यालय में उपस्थित नहीं रहता है या समस्या बताने में संकोच करते है। ऐस े लोग वाट्सअप पर समस्याओ को लिखकर भेजेंगे। उसका निराकरण किया जाएगा। वाट्सअप नम्बर 9479193000 है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *