IMD Alert : चक्रवात नोरू का असर, 17 राज्यों में बारिश का येलो-ऑरेंज अलर्ट, दो सिस्टम एक्टिव, जानें पूर्वानुमान

IMD ने कई राज्यों में भारी बारिश (heavy rain) की चेतावनी जारी कर दी है। अक्टूबर महीने में देश के कई राज्यों में मानसून की सक्रियता (active monsoon) के साथ ही कई चक्रवाती सिस्टम का भी असर नजर आएगा। इसके अलावा प्रशांत महासागर से आ रही तीव्र हवा के कारण चक्रवात नोरू (cyclone Noru) का असर भी देश में दिखने लगा है। IMD Alert ने पूर्वी उत्तर पूर्वी सहित दक्षिणी राज्य में बारिश से चेतावनी जारी कर दी गई है। IMD की माने तो नोरु के कारण बंगाल की खाड़ी के ऊपर साइक्लोनिक सरकुलेशन तैयार हो रहे हैं। जिसके कारण दक्षिण पश्चिम में देखने को मिल सकती है। इसके साथ ही देश की गतिविधियों में वृद्धि देखी जाएगी।

दरअसल बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र उत्पन्न हो रहा है। जल्दी उसके डिप्रेशन में बदलने की संभावना जताई गई है। डिप्रेशन में बदलने के साथ ही कई राज्य में बारिश का दौर शुरू होगा। झारखंड से लेकर कश्मीर तक 10 राज्यों में बारिश की गतिविधि देखने को मिलेगी। उत्तर भारत में भी मौसम सामान्य बना रहेगा। मानसून की विदाई से पहले उत्तर भारत के कई राज्यों में आसमान साफ होने लगे हैं, दक्षिणी भारत कि राज्य में हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की जा रही है। दरअसल आज मौसम विभाग ने उड़ीसा केरल झारखंड से कश्मीर राज्यों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। राजधानी दिल्ली में आंशिक तौर पर बादल छाए रहेंगे।

दिल्ली में मौसम सुहावना

दिल्ली में मौसम सुहावना बना रहेगा बादलों के आवागमन के साथ ही ठंडी हवा से राहत मिलेगी वहीं दिल्लीवासियों को बारिश के लिए 3 दिन का इंतजार करना पड़ेगा, 3 दिन के बाद मौसम में बदलाव के साथ ही बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी।

यूपी में बूंदाबादी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज न्यूनतम तापमान 24 डिग्री अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड से हल्के बादल छाए रहेंगे। हालांकि बारिश की संभावना से इनकार किया गया है। उत्तर प्रदेश में 2 दिन के बाद मौसम बदलेगा। वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बूंदाबांदी देखने को मिलेगी।

बिहार में बारिश की चेतवनी

विभाग ने बिहार में एक बार फिर से बारिश की चेतावनी जारी की है। दरअसल दशहरा में एक बार फिर से बारिश से बिहार तरबतर हो सकता है। पछुआ हवा चलने के कारण मौसम में बदलाव देखने को मिल रहे हैं। अगस्त में मानसून की बेरुखी के बाद सितंबर में मानसून मेहरबान रहा है। अक्टूबर में दूसरे सप्ताह तक बिहार में गुलाबी ठंड की दस्तक देखने को मिलेगी। वहीं मौसम विभाग ने 25 जिलों में आज मध्यम बारिश की उम्मीद जताई है।

मौसम प्रणाली

  • सुपर चक्रवात नोरू की वजह से बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवर्ती परिसंचरण की गतिविधि शुरू हो गई है। दिल्ली हरियाणा पूर्वी राजस्थान मध्य प्रदेश और यूपी में 5 अक्टूबर से बारिश होने के आसार नजर आ रहे हैं। इसके अलावा बिहार और झारखंड में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है।
  • एक चक्रवाती परिसंचरण आंध्र प्रदेश के तट के पास मौजूद है और कम से कम अगले दो दिनों तक बारिश का कारण बन सकता है।

झारखण्ड में बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट

झारखंड के कुछ हिस्से में 3 घंटे बाद बारिश का दौर शुरू होगा। इन जिलों में मौसम विभाग ने बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने झारखंड के बोकारो गुमला हजारीबाग फूटी लातेहार रांची रामगढ़ सिंहभूम सहित संथाल परगना में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया वहीं लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश

बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश का दौर जारी रहेगा, बीरभूम हुगली हावड़ा सहित जलपाईगुड़ी कोलकाता मालदा नादिया वर्धमान मेदिनीपुर और मुर्शिदाबाद में भी बारिश देखने को मिलेगी। इसके अलावा उड़ीसा के 15 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

MP -CG-राजस्थान, गुजरात में 4 अक्टूबर से बारिश

उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्र सहित मध्य प्रदेश राजस्थान गुजरात छत्तीसगढ़ में 5 अक्टूबर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा, 3 दिन तक लगातार क्षेत्रों में बारिश की गतिविधि से मौसम सुहावना बना रहेगा। हालांकि 3 दिन की मानसूनी गतिविधि के बाद बारिश की गतिविधियों पर रोक लगेगी।

चेन्नई दक्षिण में आंधी के साथ भारी बारिश

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने पूर्वोत्तर मानसून के आने से पहले चेन्नई में बारिश और आंधी की भविष्यवाणी की है। आईएमडी के अधिकारियों के अनुसार, एक चक्रवाती परिसंचरण आंध्र प्रदेश के तट के पास मौजूद है और कम से कम अगले दो दिनों तक बारिश का कारण बन सकता है।

आईएमडी ने अगले 48 घंटों के दौरान शहर और उपनगरों के कुछ हिस्सों में गरज और बिजली गिरने के साथ हल्की से मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की है। हालांकि वहां आमतौर पर बादल छाए रह सकते हैं, अधिकतम और न्यूनतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस और 26 डिग्री सेल्सियस-27 डिग्री सेल्सियस के आसपास हो सकता है। यह आंध्र प्रदेश के तट के पास उच्च वातावरण में एक चक्रवाती परिसंचरण के कारण है।

तमिलनाडु में अगले तीन दिनों में हल्की बारिश और ज्यादातर बादल छाए रहेंगे। हम 1 मिमी या 5 मिमी जैसी हल्की बारिश की उम्मीद कर सकते हैं। एक और चक्रवाती परिसंचरण 8 अक्टूबर के आसपास बनने और तमिलनाडु की ओर बढ़ने का अनुमान है, शायद शहर में बारिश बढ़ रही है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *