TOP NEWS

IMD Alert: 13 राज्यों में बारिश, बदला मौसम,इन क्षेत्रों में बढ़ेगा तापमान, जानें पूर्वानुमान

वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय हुआ है

IMD Alert : देश के मौसम में पल-पल बदलाव देखने को मिल रहा है। कई राज्यों में बारिश शुरू हो गई है। मौसम जल्दी बदलने वाला है। पर्वतीय राज्य में भारी बर्फबारी देखने को मिल रही है। इसी बीच उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब के क्षेत्रों में बारिश देखने को मिली है। आगामी 3 दिनों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा।

राजधानी दिल्ली में भी मौसम में बदलाव देखने को मिलेंगे। उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में शीतलहर से राहत मिलेगी। हालांकि पहाड़ों पर बर्फबारी शुरू होगी। इसके साथ ही 26 जनवरी से पहले मैदानी इलाके में बारिश की संभावना भी जताई गई है। मौसम विभाग की माने तो शिमला सहित कई क्षेत्रों में भारी बर्फबारी देखने को मिली है। वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय हुआ है। जिसके कारण 28 जनवरी तक देश के मौसम में बड़ा बदलाव होता रहेगा।

राजधानी दिल्ली में कई बार इसकी शुरुआत हो चुकी है। क्षेत्रों में बारिश और बूंदाबांदी रिकॉर्ड की गई है। इसके साथ ही तापमान में गिरावट जारी है। शीतलहर से लोगों को राहत मिलेगी। न्यूनतम तापमान में कमी देखी जाएगी। हालांकि बारिश होने से मौसम सुहावना बना रहेगा। इसके साथ ही 7 दिनों तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के साथ ही बारिश पर विराम लगेगी। दिल्ली में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। सोमवार मंगलवार को हल्की बारिश रहेगी। इसके साथ ही बुधवार और गुरुवार को मध्यम बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बीते 24 घंटे में बारिश देखने को मिली है। इसके साथ ही 28 जनवरी तक अलग-अलग हिस्सों में मध्यम बारिश और बूंदाबांदी होती रहेगी। लखनऊ, अयोध्या सहित अमेठी, अंबेडकरनगर और सुल्तानपुर में बारिश का सिलसिला जारी रहा। गोंडा में भी ओले पड़े हैं। इसके साथ ही 27 जनवरी तक बारिश का दौर जारी रहेगा। कई इलाकों में मध्यम बारिश देखने को मिलेगी। इसके साथ ही ओले पड़ने से मौसम और ठंडा होगा। मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक उत्तरी पाकिस्तान पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसका असर राजस्थान पर पड़ रहा है। जिसके कारण बंगाल की खाड़ी से भी पुरवा हवा चल रही है। ऐसे में उत्तर प्रदेश में मौसम बदलने का सिलसिला जारी रहेगा। 28 जनवरी के बाद उत्तर प्रदेश के लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिल सकती है।

पहाड़ों पर भारी बर्फबारी

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के साथ ही पहाड़ी इलाकों पर बर्फबारी तेज हो गई है। उत्तराखंड के मुंस्यारी और धारचूला की घाटियों पर भारी हिमपात देखने को मिला। इसके साथ ही बिजली धार काला मुनि और गिरी मुनस्यारी में भी भारी बर्फबारी देखने को मिली है। इधर गिलगित, बालटिस्तान मुजफ्फराबाद और जम्मू कश्मीर में भी भारी हिमपात देखने को मिला है। हिमाचल में हो रही बर्फबारी के कारण लाहौल जिले का कुल्लू से संपर्क कट गया है जबकि शिमला में यातायात व्यवस्था ठप पड़ गई है। गगल एयरपोर्ट से उड़ानों को ठप कर दिया गया है। उत्तराखंड में भारी बर्फबारी का दौर जारी है। फिलहाल 5 दिनों तक क्षेत्रों में बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा। कुछ क्षेत्रों में बारिश का भी पूर्वानुमान जताया गया है।

राजस्थान में मावठ गिरने और बारिश की चेतावनी

राजस्थान में कल मावठ गिरने के साथ ही एक बार फिर से तापमान में गिरावट देखी गई है। इसके साथ ही सर्द हवाओं का सिलसिला जारी है। पिलानी, फतेहपुर सहित चुरू में भी तापमान में गिरावट रिकॉर्ड की गई। हालांकि इन चित्रों में तापमान वृद्धि देखने को मिली थी। जिसके कारण तापमान 5 डिग्री सेल्सियस पर बना हुआ है। 23 से 26 जनवरी के बीच राजस्थान में मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। गंगानगर, हनुमानगढ़ सहित अलवर, भरतपुर में बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके साथ ही फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।

Xi Jinping: Corona के हाहाकार के बीच शी जिनपिंग ने देश को किया संबोधित,कहा...

तापमान में गिरावट के साथ ही पिलानी में न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि शुरू में न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। राजस्थान में 3 दिनों तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। माउंट आबू पर न्यूनतम तापमान 0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। बूंदी, बीकानेर, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, कोटा में तापमान में गिरावट जारी रहेगी। झुंझुनू, हनुमानगढ़, गंगानगर और भरतपुर संभाग में आसमान में बादल छाए रहेंगे। कहीं-कहीं बारिश देखने को मिल सकती है। इसके साथ ही बूंदा बादी का अलर्ट जारी किया गया है। बीकानेर, हनुमानगढ़ में 26 जनवरी को शीतलहर चलने का पूर्वानुमान जताया गया है। 15 से 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी।

पूर्वी राज्यों में घने कोहरे और बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग की माने तो असम सहित मेघालय, मणिपुर, त्रिपुरा ,अरुणाचल प्रदेश में 26 जनवरी तक घना कोहरा देखने को मिलेगा। क्षेत्रों में बारिश भी देखने को मिल सकती है। भूस्खलन से लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। इसके साथ ही असम मेघालय के कुछ क्षेत्रों में शीत लहर का भी पूर्वानुमान जारी किया गया है।

मौसम प्रणाली

  • देश के मौसम प्रणाली की बात करें तो पाकिस्तान और जम्मू कश्मीर पर एक साइक्लोनिक सरकुलेशन तैयार हो रहा है।
  • इसके अलावा एक चक्रवाती हवा का क्षेत्र पश्चिम राजस्थान और आसपास के क्षेत्र पर निर्मित हुआ है।
  • पाकिस्तान और जम्मू कश्मीर पर पश्चिमी विक्षोभ तेजी से आगे बढ़ रहा है, जिसके कारण भारी हिमपात की संभावना जताई गई है।
  • 23 जनवरी को एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ तैयार होगा, जिसके कारण पश्चिमी हिमालय पर इसका प्रभाव दिखेगा।

आगामी 24 घंटे का मौसम

  • अभी 24 घंटे में जम्मू कश्मीर लद्दाख हिमाचल उत्तराखंड गिलगित बाल्टिस्तान मुजफ्फराबाद में भारी हिमपात सहित हल्की बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
  • एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 27 जनवरी तक पर्वतों और उत्तर भारत की भूमि पर असर करेगा। जिसके कारण बारिश और बर्फबारी की गतिविधि में तेजी आएगी। पर्वतीय राज्यों में जहां हिमपात होगा मैदानी राज्यों में व्यापक बारिश की संभावना भी जताई गई है।
  • राजधानी दिल्ली सहित हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और उत्तर पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्से में ओलावृष्टि की संभावना जताई गई है।
  • पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, यूपी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में छिटपुट बारिश देखने को मिल सकती है।

उड़ीसा झारखंड में पश्चिमी विक्षोभ का दिखेगा असर

उड़ीसा पश्चिम बंगाल झारखंड में भी पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखेगा विजिबिलिटी कम रहेगी। कोहरे नजर आएंगे धुंध और कोहरे से मौसम पटा रहेगा। हल्की बारिश की संभावना से इनकार किया गया है। शाम होते ही हवा का प्रचलन तेज होगा। जिससे शीतलहर चलने की संभावना जताई गई है।

पंजाब हरियाणा में 26 जनवरी तक बारिश, क्षेत्रों में पड़ेगा असर

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू-कश्मीर हिमाचल उत्तराखंड में हल्की और मध्यम बारिश रिकॉर्ड की जा सकती है। इसके साथ ही पंजाब हरियाणा राजस्थान सहित कई इलाकों में मध्यम बारिश देखने को मिलेगी। पंजाब हरियाणा से नई दिल्ली में बारिश का सिलसिला 1 सप्ताह तक जारी रहेगा।

महाराष्ट्र केरल के इन क्षेत्रों में बढ़ेगा तापमान, यहां बारिश

पुणे गोवा महाराष्ट्र सहित कर्नाटक और केरल के क्षेत्रों में तापमान में भारी बढ़ोतरी देखी जाएगी। इसके साथ ही मौसम सुहावना बना रहेगा। आसमान साफ रहेगा। धूप खिली रहेगी जबकि ठंड की संभावना से इनकार किया गया। हालांकि केरल के कुछ क्षेत्रों सहित आंध्र प्रदेश में बूंदाबादी देखने को मिल सकती है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS