पहाड़ों पर बर्फबारी, 13 अक्टूबर तक मानसून की वापसी, 3 चक्रवाती सिस्टम-डिप्रेशन एक्टिव,17 राज्यों में भारी बारिश, जानें पूर्वानुमान

दिल्ली।देश के आधे हिस्से से मानसून (Returning Monsoon) की विदाई हो गई है। वहीं उत्तर मध्य भारत से मानसून की विदाई के साथ ही बारिश (heavy rain) की गतिविधियों पर विराम लगा। IMD Alert के मुताबिक 4 अक्टूबर के बाद फिर से बारिश का दौर देखने को मिलेगा। फिलहाल भारत के मध्य क्षेत्र सहित पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत में बारिश का दौर जारी है। दरअसल प्रशांत महासागर की तरफ से आ रहे तीव्र हवा के क्षेत्र के कारण बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब (low depression) का क्षेत्र उत्पन्न हो रहा है। जिसके कारण इन क्षेत्रों में भारी बारिश देखने को मिल रही है।

उड़ीसा में 8 अक्टूबर को भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया जबकि बिहार और झारखंड के कुछ हिस्से में आज मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है। इन क्षेत्रों में येलो अलर्ट जारी किया गया है। 17 राज्य में रात के तापमान में तीन से पांच फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जा रही है। जिसके साथ ही देश में ठंड की आहट शुरू हो गई है।उत्तर भारत में बर्फबारी का दौर देखने को मिल रहा है। अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक देश में ठंड की दस्तक देखने को मिलेगी। फिलहाल भारत के मध्य क्षेत्र सहित दक्षिण भारत और उत्तर उत्तर पूर्व भारत में बारिश का दौर जारी रहेगा।

मौसम विभाग ने पूर्वी राज्य सहित केरल कर्नाटक तमिलनाडु आंध्रप्रदेश उड़ीसा पश्चिम बंगाल बिहार झारखंड में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा मेघालय मणिपुर नागालैंड बारिश और भूस्खलन को लेकर चेतावनी जारी की गई है। हालांकि दिल्ली सहित राजस्थान गुजरात हरियाणा पंजाब और छत्तीसगढ़ के क्षेत्रों में तापमान में वृद्धि देखी जाएगी। तापमान 3 से 4 फीसद की वृद्धि के बाद 4 अक्टूबर से एक बार फिर से बारिश की गतिविधियों के बढ़ने की संभावना जताई गई है।

4 अक्टूबर से दिल्ली में मौसम बदलने की चेतावनी

दिल्ली के मौसम की बात करें तो 4 अक्टूबर को राजधानी दिल्ली में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। शनिवार 1 अक्टूबर के बाद दिल्ली में बादल छाए रहेंगे। न्यूनतम तापमान 23 डिग्री अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जाएगा। तापमान में 2 फीसद की वृद्धि रिकॉर्ड की जाएगी। 3 अक्टूबर तक बादल छाने के साथ ही बादलों का आवागमन जारी रहेगा। 4 अक्टूबर को बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने 4 अक्टूबर से दिल्ली में मौसम बदलने की चेतावनी जारी की है।

4 और 5 अक्टूबर को UP में भारी बारिश

उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में मानसून की विदाई हो गई है। वहीं राजधानी लखनऊ में आज तापमान वृद्धि रिकॉर्ड की जाएगी। तापमान 2 फीसद बढ़कर 34 डिग्री तक रहने की उम्मीद जताई गई है। जबकि न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहेगा। हालांकि उत्तर प्रदेश मौसम विभाग केंद्र की मानें तो 4 और 5 अक्टूबर को राज्य के कुछ हिस्सों में भारी बारिश देखने को मिलेगी।

उत्तर प्रदेश में 2 दिनों तक खबर 21 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दुर्गा पूजा समाप्ति के बाद हल्की ठंड की दस्तक होगी। वही आसमान के नीचे हल्के ओर से दिवाली तक ठंड पड़ने के आसार नजर आ रहे हैं।

बिहार के 14 जिलों में वज्रपात की चेतावनी

बिहार में राजधानी पटना सहित अन्य स्थानों पर बादल छाए रहेंगे । न्यूनतम तापमान 24 डिग्री अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहेगा तापमान में वृद्धि की कोई संकेत नहीं दिए गए हैं। गरज चमक के साथ बारिश की गतिविधियां देखने को मिल सकती है। दरअसल 3 अक्टूबर से 6 अक्टूबर तक बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। गया सहित आसपास के क्षेत्रों में आज गरज चमक की संभावना जताई गई है।

इसके अलावा शनिवार को राज्य के 14 जिलों में वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है। पश्चिम बिहार के कुछ ऐसे में बारिश की संभावना देखते हुए बारिश अलर्ट जारी किया गया है। 3 अक्टूबर के बाद बारिश की गतिविधि मैं तेजी देखी जाएगी। पटना नालंदा बेगूसराय लखीसराय से नवादा जहानाबाद गया अरवल औरंगाबाद रोहतास कैमूर बक्सर और भोजपुर में वज्रपात का येलो अलर्ट जारी कर दिया गया। साथ ही पटना मोतिहारी बेतिया गोपालगंज गया बेगूसराय और सासाराम में कहीं-कहीं छिटपुट बारिश से मौसम सुहावना बना रहेगा।

झारखंड में बारिश का दौर जारी

झारखंड में बूंदाबांदी का दौर जारी रहेगा रांची गुमला सहित झारखंड के दक्षिण पश्चिम में क्षेत्रों में बारिश का दौर जारी रहेगा। मौसम विभाग की मानें तो अगले 2 से 3 घंटे में रांची और आसपास के इलाकों में बूंदाबांदी से मौसम सुहावना बना रहेगा। वही 3 अक्टूबर के बाद भारी बारिश की आशंका जताई गई है। 3 अक्टूबर से मौसम में बदलाव देखने को मिलेंगे। इसके अलावा खूंटी रामगढ़ हजारीबाग बोकारो संथाल परगना सहित उत्तरी और मध्य भाग में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बंगाल उड़ीसा में भारी बारिश

बंगाल उड़ीसा में भी 2 से 5 अक्टूबर के बीच भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। ओडिशा में आज भी बूंदाबांदी देखने को मिलेगी। इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही उड़ीसा में 2 से 5 अक्टूबर के बीच भारी से बहुत भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। बंगाल पर भी निम्न दबाव का असर दिखेगा और बंगाल के कई क्षेत्रों में बारिश से मौसम तरबतर रहेंगे।

मौसम प्रणाली

  • सुपर चक्रवात नूरु की वजह से बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती परिसंचरण के कारण मानसून की वापसी में देरी हो रही है, मध्य प्रदेश यूपी के अलावा दिल्ली हरियाणा और राजस्थान में 5 अक्टूबर तक भारी बारिश की संभावना जताई गई है, इसके अलावा अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में उत्तर प्रदेश बिहार और झारखंड में भारी बारिश देखने को मिलेगी।
  • दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी रेखा जम्मू, ऊना, चंडीगढ़, करनाल, बागपत, दिल्ली, अलवर, जोधपुर और नालिया से होकर गुजर रही है।
  • आंध्र प्रदेश के उत्तर-पूर्वी तट पर बने एक चक्रवाती परिसंचरण के कारण इसकी गति में देरी होगी। यह सोमवार तक बंगाल की खाड़ी के केंद्र की ओर थोड़ा आगे बढ़ेगा लेकिन मंगलवार के बाद उपमहाद्वीप में लौटेगा, फिर बुधवार को लैंडफॉल करेगा।
  • इसी समय, एक पूर्व-पश्चिम ट्रफ रेखा आंध्र प्रदेश के तट पर बंगाल की पश्चिम-मध्य खाड़ी से निचले क्षोभमंडल स्तर पर तटीय कर्नाटक तक जाती है।
  • नतीजतन, गर्म और आर्द्र दक्षिण पूर्वी या पूर्वी हवाओं के कारण मंगलवार के बाद उपमहाद्वीप के पूर्वी हिस्से में व्यापक बारिश होने की संभावना है।

13 अक्टूबर तक मानसून की वापसी

वही बंगाल की खाड़ी के ऊपर पूर्वोत्तर दिशा में बने चक्रवाती परिसंचरण के कारण मध्य प्रदेश यूपी की तरफ क्षेत्र की बढ़ने की संभावना जताई गई है। गंगा के मैदानी क्षेत्र में अच्छी बारिश देखने को मिलेगी वहीं 20 सितंबर से मानसून की वापसी शुरू हो गई है लेकिन 13 अक्टूबर तक मध्य प्रदेश में मानसून देखने को मिलेगा। हालांकि 13 अक्टूबर के बाद मानसून की वापसी निश्चित है।
राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में आज बारिश

दक्षिण पश्चिम मानसून राजस्थान से विदा हो चुका है लेकिन बारिश का प्रकोप जारी रहेगा। जोधपुर संभाग के पूरे भाग को छोड़कर पश्चिमी राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में आज बारिश की गतिविधि देखने को मिल सकती है।

MP-CG में विदाई से पहले मानसून का असर

मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ में विदाई से पहले मानसून अपना असर दिखा रहा है। दरअसल मध्य प्रदेश के धार उज्जैन सहित 12 जिलों में आज बौछार की संभावना जताई गई है। हालांकि 3 अक्टूबर के बाद एक बार फिर से क्षेत्रों में तेज बारिश देखने को मिलेगी जबकि छत्तीसगढ़ के भी 10 जिलों में आज बूंदाबांदी की संभावना जताई गई है।

उत्तराखंड हिमाचल सहित जम्मू कश्मीर लेह लद्दाख में पर्वतों पर बर्फबारी देखने को मिल रही है। जिसके बाद अनुमान जताया जा रहा है कि अक्टूबर के दूसरे सप्ताह से देश में ठंड की दस्तक के साथ ही तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी। साथ ही ठंडी हवा से मौसम सुहावना बना रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *