इंडिया वाल

IMD Alert- इन राज्यों में 18 दिसंबर तक भारी बारिश की चेतावनी,पर्वतों पर बर्फबारी, शीतलहर, जानें पूर्वानुमान

IMD Rainfall Alert, Aaj Ka Mausam: मौसम विभाग की माने तो गुरुवार को पर्वतीय राज्यों में भारी बर्फबारी की चेतावनी जारी की गई है।  दक्षिण पूर्वी सहित दक्षिण पश्चिम भारत में बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया है। दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, गुजरात, हरियाणा, बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड का अलर्ट जारी किया गया है।चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव से दक्षिण पूर्व और उत्तरी केरल कर्नाटक सहित मध्य अरब सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र निर्मित हुआ है। भारतीय तट के दूर पश्चिम उत्तर पश्चिम में यह तेजी से आगे बढ़ जाए। इसके डिप्रेशन में बदलने की संभावना जताई गई है। जिसके कारण से महाराष्ट्र तमिलनाडु केरल कर्नाटक रायलसीमा में बारिश देखने को मिलेगी। 21 दिसम्बर से एक बार फिर से केरल में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

दक्षिणी अंडमान सागर और उससे सटे मलक्का और सुमात्रा जलडमरूमध्य पर चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव से दक्षिण अंडमान सागर और दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के आस-पास के क्षेत्रों में एक कम दबाव का क्षेत्र बना है।इसके धीरे-धीरे पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है और 15 दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे भूमध्यरेखीय हिंद महासागर पर एक स्पष्ट कम दबाव का क्षेत्र तैयार होगा। इसके पश्चिम की ओर बढ़ने की सम्भावना है, 17 दिसंबर 2022 की सुबह तक इसकी तीव्रता बनी रहेगी।

दिल्ली में इस सप्ताह के बाद कड़ाके की ठंड

राजधानी दिल्ली में अगले 2 दिनों में तापमान में 4-5 फीसद की गिरावट देखी जा सकती है। दरअसल उत्तर पश्चिम की तरफ से आ रही सर्द हवा के कारण तापमान में गिरावट देखी जा रही है। न्यूनतम तापमान गिरकर 6 डिग्री सेल्सियस पहुंच सकता है। इसके अलावा राजस्थान और गुजरात में भी तापमान में गिरावट का दौर जारी है। बर्फबारी की वजह से दिल्ली में इस सप्ताह के बाद कड़ाके की ठंड का पूर्वानुमान जारी किया गया है।

मौसम गतिविधियां

इस बीच, 16 दिसंबर से 18 दिसंबर तक पंजाब के कुछ हिस्सों में शीतलहर की स्थिति रहने की संभावना है। पंजाब के कुछ हिस्सों में शीत लहर की स्थिति संभव है। अरुणाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, पश्चिम मध्य प्रदेश, गुजरात, गोवा, कोंकण, मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, रायलसीमा और आंतरिक कर्नाटक में गरज के साथ बारिश होने का अनुमान है।

बाबा रामदेव ने लॉंच की कोरोना वायरस की आयुर्वेदिक दवा,इन जड़ी बूटियो से मिलकर बनी है,जाने क्या है खास

महाराष्ट्र में भारी बारिश का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण भारत के 8 राज्य में 24 घंटे के दौरान भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है। वहीं इस दबाव के क्षेत्र के डिप्रेशन में बदलने के साथ ही अंडमान निकोबार, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु सहित महाराष्ट्र में भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया है। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र गुजरात, विदर्भ और गोवा और बूंदाबांदी की संभावना जताई गई है।उत्तर भारत में ठंड लगातार बढ़ी है। उत्तर पश्चिम मध्य भारत में शीतलहर का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया है। राजधानी दिल्ली में आबोहवा साफ हुई है। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे रिकॉर्ड किया गया है।

मेघालय में भी कोहरे और धुंध का अलर्ट 

महाराष्ट्र में बिन मौसम बरसात देखने को मिल रही है जबकि हिमाचल प्रदेश यूपी बिहार में आज घना कोहरा छाया रह सकता है। तमिलनाडु कर्नाटक सहित कई राज्य में बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया। असम ,अरुणाचल प्रदेश, मेघालय में भी कोहरे और धुंध का अलर्ट जारी किया गया है।

सर्द हवा से मैदानी इलाके में व्यापक प्रभाव

राजस्थान के फतेहपुर में बुधवार को न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। वहीं उत्तर प्रदेश, बिहार के लोगों को सिहरन महसूस हो रही है। मैदानी इलाके में मौसम का प्रभाव दिखेगा, तापमान में गिरावट जारी रहेगी। बर्फबारी के कारण सर्द हवा से मैदानी इलाके में व्यापक प्रभाव देखने को मिलेंगे।

इन क्षेत्रों में बारिश-कोहरा-शीतलहर का अलर्ट

  • निकोबार द्वीप समूह में भारी बारिश हो सकती है।
  • अंडमान, निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में व्यापक रूप से बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं।
  • तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, तटीय कर्नाटक, केरल और माहे में गरज के साथ बौछारें पड़ने की उम्मीद है।
जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए कलेक्टर ने जारी किए 1 करोड़ 54 लाख रूपये

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS