चक्रवाती तूफान सहित 3 सिस्टम एक्टिव, 17 राज्य में 12 अक्टूबर तक भारी बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट, जानें पूर्वानुमान

देश में फिर से मौसम (weather update) में बदलाव दिखने लगा है। दरअसल मध्य क्षेत्र सहित उत्तर पूर्व और पूर्व भारत में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। दक्षिणी क्षेत्रों के बारिश देखने को मिल सकती है। IMD Alert ने कई राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। साथ ही प्रदेश में इस बार जल्द ही ठंड (cold) की दस्तक देखने को मिलेगी। मानसून (monsoon) की विदाई 15 अक्टूबर तक बताई जा रही है। 15 अक्टूबर के बाद गुलाबी ठंड की दस्तक से कई राज्य प्रभावित होंगे। मौसम विभाग विभाग ने उत्तर प्रदेश -MP-आंध्र बिहार झारखंड सहित तेलांगन और उड़ीसा में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

साथ ही उड़ीसा आंध्र प्रदेश तेलंगाना मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ ऐसे में गरज चमक के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया गया है इन क्षेत्रों में लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी। मानसून के कई राज्यों से विदाई के बाद भी बारिश की गतिविधियां संचालित है। सुपर चक्रवात नोरू की वजह से चक्रवाती परिसंचरण तैयार हो गए हैं। जिसके करण नई दिल्ली सहित कई राज्यों में दुर्गा पूजा में खलल पड़ते नजर आ रहे। पश्चिम बंगाल उड़ीसा झारखंड मध्य प्रदेश बिहार सहित कई पड़ोसी राज्यों पर इसका असर देखने को मिल रहा है।

नई दिल्ली के मौसम की बात करें तो उन तापमान में 5 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की गई। आसमान में बादल छाए हुए हैं। कुछ जगह पर कड़ी धूप खिली हुई है। वहीं मौसम विभाग ने दिल्ली में दो-तीन दिनों बाद हल्की बूंदाबांदी का अलर्ट जारी किया है। साथ ही मौसम सुहावना बना रहेगा। हालांकि उत्तर प्रदेश की तरफ से आ रही कुछ नमी की वजह से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई गई है।

UP – 20 जिलों में भारी बारिश की संभावना

उत्तर प्रदेश में गोरखपुर से मौसम में बदलाव देखने को मिला है। 20 जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम की करवट लेने के साथ ही 4 दिनों तक बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। एक दर्जन जिले में गरज चमक के साथ वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है।

बिहार में हथिया नक्षत्र का असर

बिहार के कई इलाकों में हथिया नक्षत्र का असर देखने को मिल रहा है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती तूफान और निम्न दाब के क्षेत्र की वजह से पूरे मैदान इलाके में बारिश देखने को मिल रही है। मानसून की ट्रफ लाइन आगरा ग्वालियर रतलाम होते हुए भरूच की तरह गुजर रही है। जिसके कारण कई क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। बिहार में 12 अक्टूबर तक बारिश की गतिविधि जारी रहेगी। साथ ही मौसम में बदलाव दिखने लगा है।

झारखंड में 20 जिलों में भारी बारिश

झारखंड में आज मौसम विभाग ने 20 से अधिक जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया है। लगातार हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित है। बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दाब का सबसे अधिक असर उड़ीसा बिहार और झारखंड पर देखा जा रहा है। वही बंगाल की खाड़ी में एक और चक्रवाती परिसंचरण निर्मित होने की वजह से 15 अक्टूबर तक इन क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा।

उड़ीसा बंगाल में भी भारी बारिश का अलर्ट

उड़ीसा बंगाल में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। साथ ही लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। उड़ीसा में न्यूनतम तापमान में 3 डिग्री की गिरावट देखने को मिली है। लोगों को सचेत किया गया है। गरज चमक के साथ वज्रपात की भी संभावना जताई गई है।

मौसम प्रणाली

  • दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी रेखा उत्तरकाशी, नाज़ियाबाद, आगरा, ग्वालियर, रतलाम और भरूच से होकर गुजर रही है,
  • एक निम्न दबाव का क्षेत्र आंध्र प्रदेश के तट पर पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है।
  • अगले 24 घंटों के दौरान इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर आंध्र प्रदेश तट की ओर बढ़ने की संभावना है।
  • इस बीच निम्न दबाव वाले क्षेत्र से जुड़े चक्रवाती परिसंचरण से एक ट्रफ रेखा उत्तर पश्चिमी उत्तर प्रदेश तक जाती है।
  • वहीँ एक रेखा ओडिशा तट पर बनी है, जिसके कारण इन क्षेत्रों में एक सप्ताह तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ में मौसम में बदलाव

मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ में मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। कई क्षेत्रों में आज बारिश से मौसम सुहावना बना रहेगा। मौसम विभाग ने इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं लोगों को सचेत रहने की सलाह दी गई। हालांकि मध्य प्रदेश के 17 जिले में बूंदाबादी देखने को मिलेगी। हालांकि मौसम विभाग ने भारी बारिश से इनकार किया है।

इसके अलावा दक्षिणी राज्य में मौसम सुहावना बना रहेगा बारिश की गतिविधि से इनकार किया गया है हालांकि तापमान में गिरावट जारी रहेगी मुंबई महाराष्ट्र सहित गोवा केरल कर्नाटक तमिलनाडु में तापमान में दो से तीन फीसद की गिरावट देखी जा सकती है।

व्यापक वर्षा की संभावना

पूर्वी उत्तर प्रदेश, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम में कहीं-कहीं बहुत भारी वर्षा के साथ व्यापक रूप से व्यापक वर्षा होने की संभावना है। ओडिशा, बिहार, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में भारी बारिश की संभावना है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में गरज के साथ व्यापक बारिश की भविष्यवाणी की गई है।

अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड और विदर्भ में गरज के साथ व्यापक बारिश होने की संभावना है। असम, मेघालय, पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मराठवाड़ा, कर्नाटक, केरल, माहे और लक्षद्वीप में गरज के साथ छिटपुट बारिश हो रही है। हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, पश्चिम मध्य प्रदेश, कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, रायलसीमा, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में बिजली गिरने की संभावना है। अन्य क्षेत्रों में शुष्क मौसम की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *