3 सिस्टम एक्टिव, 10 जिलों में भारी बारिश-7 संभागों में बिजली गिरने की चेतावनी, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

भोपाल ।पश्चिमी विक्षोक्ष के सक्रिय होने के साथ वर्तंमान में 3 वेदर सिस्टम एक्टिव है, जिसके चलते वातावरण में नमी बढ़ रही है और मंगलवार से फिर बारिश का दौर शुरू हो गया है। अगले 3-4 दिनों तक बारिश के आसार है। एमपी मौसम विभाग (MP Meteorological Department) ने आज बुधवार 5 अक्टूबर 2022 को 10 जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश और 7 संंभागों में बिजली गिरने की चेतावनी को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है।बुधवार काे पूर्वी मध्य प्रदेश के साथ ही भाेपाल एवं ग्वालियर संभागाें के जिलाें में झमाझम बारिश हाेने की संभावना है।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update) के अनुसार, आज 5 अक्टूबर से पूर्वी मध्य प्रदेश में बारिश का दौर शुरू होगा। 5, 6 और 7 अक्टूबर को प्रदेशभर में जमकर बारिश होगी, ग्वालियर, चंबल, बुंदेलखंड, बघेलखंड और महाकौशल में हल्की तो बुधवार से प्रदेशभर के अधिकांश इलाकों में तेज बौछारें पड़ सकती हैं। मुख्यत: उत्तरी इलाकों ग्वालियर-चंबल और बुंदेलखंड-बघेलखंड में कहीं-कहीं और पूर्वी मध्यप्रदेश यानी महाकौशल, बुंदेलखंड-बघेलखंड में दो दिन कहीं-कहीं बारिश हो सकती है।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के अनुसार, वर्तमान में बंगाल की खाड़ी के पश्चिमी हिस्से में आंध्र प्रदेश तट पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इससे होकर एक द्रोणिका मप्र होते हुए गुजर रही है। यह सिस्टम धीरे-धीरे मध्य भारत की ओर बढ़ेगा जिसके असर से मध्य प्रदेश में आज 5 से 8 अक्टूबर तक बारिश गतिविधियों में तेजी आएगी और झमाझम बारिश होगी।8 और 9 अक्टूबर को फिर से सिस्टम बन रहा है। इससे 9 से लेकर 11 अक्टूबर तक प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की से तेज बारिश हो सकती है।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather today) के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है जिसके कारण बंगाल की खाड़ी में बने कम दवाब के कारण हवा में नमी आना शुरू हो गई है, इसके असर से ग्वालियर-चंबल संभाग में छह व सात अक्टूबर को मध्यम से भारी बारिश के आसार है। बुधवार काे सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, शहडाेल एवं पन्ना जिलाें में भारी बारिश का यलाे अलर्ट जारी किया है।वही रीवा, शहडाेल, जबलपुर, भाेपाल, ग्वालियर व चंबल संभागाें के जिलाें में तथा पन्ना, बड़वानी, बुरहानपुर एवं रतलाम जिलाें में गरज-चमक के साथ बारिश के साथ बिजली गिरने की भी आशंका है।

क्या कहता है मौसम विभाग

एमपी मौसम विभाग (MP Weather today) के अनुसार,  वर्तमान में 3 वेदर सिस्टम एक्टिव है। बंगाल की खाड़ी के आंध्रा तट पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश तक 3.1 किलाेमीटर की ऊंचाई तक एक ट्रफ लाइन बनी हुई है।इसके अतिरिक्त पाकिस्तान के आसपास एक पश्चिमी विक्षाेभ हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में बना हुआ है।बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने और कम दबाव के क्षेत्र से लेकर उत्तर प्रदेश तक बने ट्रफ से फिर नमी मिलने लगी है। इसके प्रभाव से मध्य प्रदेश में अगले दाे-तीन दिन तक मध्यम से तेज बारिश का यह दौर बना रह सकता है।

इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

सीधी, रीवा, शहडोल,डिंडौरी, कटनी, सागर,सिवनी, छतरपुर, जबलपुर और पन्ना

इन संभागों में गरज चमक के साथ बारिश की चेतावनी

रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, इंदौर, ग्वालियर और चंबल संभागों में अनेक स्थानों पर।

भोपाल, नर्मदापुरम, उज्जैन संभाग में कुछ स्थानों पर।

इन संभागों में बिजली गिरने और चमकने का येलो अलर्ट

रीवा, भोपाल, सागर, नर्मदापुरम, इंदौर, ग्वालियर और चंबल संभाग ।

पिछले 24 घंटे का बारिश का अलर्ट

मंगलवार को प्रदेश में दमोह में 46 मिलीमीटर, जबलपुर में 23.6 मिलीमीटर, रीवा में 15 मिलीमीटर, ग्वालियर में 10.2 मिलीमीटर, सतना में 9 मिलीमीटर, नौगांव में 6 मिलीमीटर, उमरिया में 4 मिलीमीटर और नरसिंहपुर में 2 मिलीमीटर व मंडला में 3 मिलीमीटर वर्षा दर्ज हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *