इंडिया वाल

इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी के साथ येलो अलर्ट जारी

दिल्ली।देश के कई राज्यों में मानसून (IMD Alert) विदाई की तरफ बढ़ रहा है तो कहीं लौटता मानसून कहर भी बन रहा है। कई राज्य भारी बारिश से परेशान हैं, उत्तर प्रदेश में 25 से ज्यादा मौतें भी हो चुकी हैं। अभी भी कहीं कहीं मानसून अपनी तीव्रता बनाये हुए है। मौसम विभाग (IMD Monsoon) ने अगले तीन से पांच दिनों के लिए आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, और ओडिशा में भारी बारिश की संभावना जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग (IMD Daily Weather Report) के मुताबिक भारत के उत्तर पश्चिम क्षेत्र के कुछ हिस्सों से दक्षिण पश्चिम मानसून की वापसी के संकेत मिल रहे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले तीन से पांच दिनों ने इस क्षेत्र में भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आज 19 सितम्बर को ओडिशा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, उत्तरखंड, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भारी बारिश हो सकती है, इन राज्यों में येलो अलर्ट (IMD Yellow Alert) जारी किया गया है।

मौसम विभाग का अनुमान है कि दक्षिण-पश्चिम और इससे सटे पश्चिम-मध्य अरब सागर, पश्चिम मध्य से सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तरपूर्वी बंगाल की खाड़ी के दक्षिण में 45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक हवाएं चलने की संभावना है। मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की चेतावनी दी गई है।

स्काइमेट का पूर्वानुमान

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के अनुसार, मॉनसून की ट्रफ अब गंगानगर, हिसार, बरेली, गोरखपुर, गया, रांची, बालासोर और फिर दक्षिण-पूर्व की ओर ओर बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी की ओर जा रही है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर-पूर्वी उत्तर प्रदेश और आस-पास के क्षेत्र में बना हुआ है। एक अन्य चक्रवाती परिसंचरण पूर्वी मध्य और उससे सटे उत्तर-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना हुआ है, जो समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपर तक फैला हुआ है।

कलेक्टर जनदर्शन-निवेशकों के पैसे नहीं लौटाने पर कंपनी पर FIR करवाने के निर्देश

ऐसा रहेगा राजधानी दिल्ली का मौसम

मौसम विभाग  आज 19 सितम्बर को राजधानी दिल्ली में बादल छाए रह सकते हैं, कुछ  बूंदाबांदी  रबाउचरें गिर सकती हैं।  मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली में अब मानसून की विदाई का समय मजदीक आ गया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS