समीक्षा बैठक में कमिश्नर का अधिकारियों को सख्त निर्देश..पड़े बोर करें..पाइप लाइन विस्तार में तेजी लाएं..टैंकर भेजें..बर्दास्त नहीं करेंगे पेयजल समस्या

BHASKAR MISHRA
3 Min Read
बिलासपुर—-भीषण गर्मी की चेतावनी के बीच निगम कमिश्नर अजय त्रिपाठी ने अधिकारियों की बैठक कर जरूरी दिशा निर्देश दिया है। बैठक के दौारन त्रिपाठी ने 31 मार्च तक पानी समस्या वाले क्षेत्रों में तेजी से काम करने का निर्देश दिया। उन्होने अधिकारियों से कहा कि अति आवश्यक क्षेत्रों में बोरिंग का कार्य प्रारंभ करें। टैंकर के जरिए जल आपूर्ति सुनिश्चित करें। पाइपलाइन कार्य में तेजी लाएं। एमएमयू कैंप में पानी और छायां की तत्काल व्यवस्था करें। निगम कमिश्नर ने इस दौरान अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि शिकायतों को हरगिज बर्दास्त नहीं किया जाएगा।
 
               भीषण गर्मी और पेयजल समस्या की संभावना को  देखते हुए निगम कमिश्नर अजय त्रिपाठी ने अधिकारियों के साथ बैठक की है। इस दौरान अजय त्रिपाठी ने समस्या ग्रस्त क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित किए जाने का निर्देश दिया। इसके अलावा जहां अति आवश्यक है वहां तत्काल बोर करने को कहा है।
 
                 बैठक के दौरान निगम कमिश्नर मौके पर ही शहर के 19 स्थानों को चिन्हांकित कर बोरिंग का निर्देश दिया। अधिकारियों को स्पष्ट कहा कि 31 मार्च तक किसी भी सूरत में दिए गए निर्देशों का पालन करें। अजय त्रिपाठी ने दृष्टी सभागार में बैठक के दौरान निगम के काम काज को समीक्षा की है।
 
            जल विभाग और जोन कमिश्नरों को बताया कि अपने-अपने क्षेत्रों पेयजल की समस्या से जूछने वाले संभावित स्थानों को चिन्हित करें। टैंकर के माध्यम से जल आपूर्ति करें। बोर करें साथ आम जनता को आने वाली किसी भी प्रकार की समस्या को गंभीरता से लेकर निदान भी करें।
 
            निगम आयुक्त ने अधिकारियों को दो टूक कहा कि पानी आपूर्ति के लिए आवश्यक पाइपलाइन का कार्य में तेजी लाए। पानी की समस्या के समाधान के लिए सभी जोन को राशि उपलब्ध कराया गया है। आवश्यकता अनुसार रिपेयरिंग,उपकरण खरीदी समेत अन्य कार्यों को तेजी के साथ पूरा करें।
 
           आयुक्त ने सिरगिट्टी में जल आवर्धन योजना के तहत बनाए गए पानी टंकी को चालू करने बिजली आपूर्ति और अन्य आवश्यक कार्यों को पूर्ण कर 15 अप्रैल तक टंकी से सप्लाई कार्य प्रारंभ करने को कहा। अजय त्रिपाठी ने मेडिकल मोबाइल यूनिट में गर्मी को ध्यान में रखते हुए पानी और शिविर में छाया की व्यवस्था करें। मोबाइल यूनिट में पहुंचने वाले मरीजों को किसी भी प्रकार की समस्या ना हो। साथ ही भवन अनुज्ञा पोर्टल के जरिए नक्शा समय सीमा के भीतर पास करें।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close