दूध और रसोई गैस के दाम बढ़ने के बाद अब होटल-रेस्टॉरेंट्स में खाना-पीना भी होगा महंगा

Shri Mi
3 Min Read

कोरोना वायरस(Corona Virus) के ओमिक्रॉन वैरिएंट के बाद प्रतिबंधों में ढील दी गई, उपभोक्‍ता मोबिलिटी में सुधार आया. इससे रेस्‍टॉरेंट्स, कैफे और फास्‍ट-फूड संचालकों को मार्च महीने में बेहतर रिकवरी की उम्‍मीद दिखने लगी, लेकिन इस उम्‍मीद को महंगाई का झटका लगा. 1 मार्च, 2022 से दूध महंगा हो गया, कमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम बढ़ गए और खाद्य तेल की कीमतों में भी इजाफा हो गया. दो रुपए प्रति लीटर दूध महंगा(Milk Price) हुआ, तो अन्‍य डेयरी प्रोडक्‍ट्स के भी दाम बढ़ गए. आपको बता दें कि रूस-यूक्रेन (Russia-Ukraine) के बीच छिड़ी जंग से खाने का तेल भी पिछले एक हफ्ते में महंगा हो गया है.

105 रुपये महंगा हुआ कमर्शियल गैस सिलेंडर

बात अभी खत्‍म नहीं हुई, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने भी कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में बड़ा इजाफा कर रिकवरी की उम्‍मीद को धुएं में बदल दिया. 19 किलो वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में 105 रुपए की बढ़ोतरी दर्ज हुई. दिल्‍ली में अब कमर्शियल सिलेंडर 2012 रुपए में मिलेगा, जो इससे पहले फरवरी में 1907 रुपए का था. कोलकाता में इस सिलेंडर की कीमत 2095 रुपए, मुंबई में 1963 रुपए और चेन्‍नई में 2145 रुपए होगी.

रेस्टॉरेंट्स, कैफे भी बढ़ा सकते हैं दाम

दूध, तेल, गैस सबके दाम बढ़ने से अब रेस्‍टॉरेंट्स, कैफे और फास्‍ट-फूड संचालकों पर भी दाम बढ़ाने का दबाव बढ़ गया है. यानी अब सड़क के किनारे किसी टपरी पर खड़े होकर चाय पीना या समोसे-पकौड़े के चटखारे लेने से लेकर रेस्‍टॉरेंट और होटल में स्‍वादिष्‍ट खाने पर अब आपको पहले के मुकाबले ज्‍यादा कीमत चुकानी पड़ सकती है.

हालांकि राहत की बात यह है कि IOCL ने घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में एक बार फ‍िर कोई बदलाव नहीं किया है. दिल्‍ली में नॉन-सब्सिडाइज्‍ड रसोई गैस सिलेंडर 899.50 रुपए में ही मिलेगा. आपको बता दें कि घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 6 अक्‍टूबर, 2021 से स्थिर बनी हुई हैं.

महंगाई की ये आग यही नहीं रुकने वाली है. क्रूड ऑयल के 100 डॉलर से ऊपर निकल जाने से पेट्रोलियम कंपनियों का घाटा भी बढ़ता जा रहा है. 7 मार्च के बाद कभी भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में बड़ी बढ़ोतरी हो सकती है, जिससे महंगाई की ये आग और भड़केगी.

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close