न मायके न ससुराल में इस बार तीजा मनाएंगे धरना स्थल पर-हड़ताली महिला कर्मी

विश्रामपुरी/केशकाल। छत्तीसगढ़ कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन द्वारा अपनी 2 सूत्रीय मांगों को लेकर  22 अगस्त से प्रदेश में अनिश्चितकालीन हड़ताल किया जा रहा है। इसी क्रम में ब्लॉक इकाई बड़ेराजपुर के कर्मचारी अधिकारी भी विश्रामपुरी के मंडी प्रांगण में आंदोलनरत हैं।शनिवार को यह हड़ताल लगातार छठवें दिन भी जारी रहा। जिसमें जिला संयोजक नीलकंठ शार्दूल, सह संयोजक लोकेश गायकवाड़, तहसीलदार सुशील भोई समेत फेडरेशन के अन्य पदाधिकारियों ने धरना स्थल पहुंच कर कर्मचारियों में ऊर्जा का प्रवाह किया।जिला संयोजक नीलकंठ शार्दूल ने कहा कि फेडरेशन द्वारा अलग अलग प्रकार से प्रदर्शन कर शासन प्रशासन का ध्यानाकर्षण करने का प्रयास किया था, लेकिन सरकार के कानों में जूं तक न रेंगी। इसलिए विगत 22 अगस्त से प्रांतीय आवाहन पर हमने अनिश्चितकालीन हड़ताल का शंखनाद किया है। सीएम भूपेश बघेल जब तक फेडरेशन के पदाधिकारियों को बुलाकर चर्चा नहीं करते एवं कोई सकारात्मक आदेश जारी नहीं करते, तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

हड़ताल में बैठी महिला कर्मचारी कनेश्वरी शोरी और चंद्रकला ने कहा कि हम सभी महिलाओं ने ठान लिया है कि न मायके में न ससुराल में इस बार तीजा त्यौहार हड़ताल में ही मनाए और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग करते हैं कि अगर वह हमें अपनी बहन मानते हैं तो तोहफे के रूप में हमारी मांगें पूरी करें।

संयुक्त शिक्षक संघ के जिला उपाध्यक्ष श्रवण मरकाम ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कई दशकों के बाद यह पहली हड़ताल है जिसमें लाखों अधिकारी कर्मचारी एकजुट होजर अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर बैठे हैं। राज्य सरकार को यह समझना चाहिए कि हम भी हड़ताल करना नहीं चाहते लेकिन सरकार के रवैये से हम हड़ताल पर बैठने के लिए विवश हो गए हैं। हम निवेदन करते हैं कि राज्य सरकार जल्द से जल्द हमारी मांगों को पूरा करें।इस दौरान बुद्धेश्वर साहू, गणेशराम निषाद, विष्णुनाग, देवेंद्र कुमार मरकाम, सुंदरलाल यादव, सियाराम कोर्राम, केके नाग, शंकरलाल मंडावी, शुभऊ राम नेताम, हेमलाल पुजारी, सुकलाल नेताम, गुलशन भारद्वाज, चंद्रकला ठाकुर जीएस सेमरा, अशोक कुमार ध्रुव समेत  कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के सभी संगठनों के पदाधिकारी व सदस्यगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.