भारत दुनिया का सबसे जवान देश..चैयरमैन दुबे ने कहा..युवाओं में महासागर की ताकत..जो चाहा कर दिखाया..क्योंकि युवा का उलट वायु होता है

बिलासपुर—भारत सरकार के युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के प्रकोष्ठ युवा केन्द्र के प्रयास से सीएमडी स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में युवा वक्ताओं ने देश प्रेम एवं राष्ट्र निर्माण..सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास पर जमकर भाषण दिया। तो वहीं उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महाविद्यालय के चैयरमैन संजय दुबे ने भी देश के भविष्य को जमकर रिचार्ज किया।
 
                 सीएमडी महाविद्यालय में भारत सरकार के युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय के प्रकोष्ठ नेहरू युवा केंद्र के बिल्हा विकासखण्ड इकाई के बैनर तले सीएमडी सभागार में भाषण प्रतियोगिता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्यअतिथि संजय दुबे ने किया। इस दौरान कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नेहरू युवा केन्द्र के समन्वयक राहुल सैनी के अलावा विशिष्ट अतिथि महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ. संजय सिंह और  बी.एड प्रभारी डॉ. अंजली चतुर्वेदी उपस्थित थी। 
 
          देश प्रेम एवं राष्ट्र निर्माण“ सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास विषय पर आयोजित भाषण प्रतियोगिता में युवाओं ने अपनी भावनाओं  को जाहिर किया। कार्यक्रम को मुख्य अतिथि संजय दुबे ने संबोधित कर युवाओं को जमकर रिचार्ज किया। उन्होने कहा कि भारत को युवाओं का देश कहा जाता है। यहां की आधी से अधिक आबादी युवा वर्गों की है। जाहिर सी बात है जिस देश में इतने युवा होंगे…उस देश ऊर्जा का अपार भण्डार होगा ही। दुबे ने कहा कि भारत का एक एक युवा अपने आप में संपूर्ण महासागर की ताकत रखता है। उसके पास ज्ञान है..मेधा है..और सबसे बड़ी बात भारत के युवाओं के पास कुछ कर गुजरने की क्षमता है। यदि युवा वर्ग  सुनिश्चित कर ले तो देश की तकरीद को चमकने से कोई रोक नहीं सकता है। क्योंकि युवा को उलटकर पढ़ा जाए तो वायु होता है। वायु का वेग क्या होता है किसी को बताने की जरूरत नहीं है।लेकिन इतना तय है कि भारत का युवा जब भी कुछ करता है..चमत्कार ही होता है।
 
                   प्रतियोगिता में निर्णायक की भूमिका का निर्वहन सी.एम. दुबे महाविद्यालय कार्यक्रम अधिकारी डॉ. पी.एल. चंद्राकर, डॉ. के.के. शुक्ला, डी.पी विप्र महाविद्यालय के डॉ. रूपेन्द्र शर्मा ने निभाया। प्रतियोगिता में सी.एम. दुबे महाविद्यालय के कुमारी अंकिता मरावी प्रथम स्थान रही। अंकुर यादव को दूसरा और अक्षत तिवारी को तीसरा स्थान मिला।
 
             अंजली खूंटे और लीलावती राजवाड़े ने लोक नृत्य प्रस्तुत कर कार्यक्रम को चार चांद लगया। समारोह को सफल बनाने में नेहरू युवा केंद्र बिल्हा स्वयंसेवक और एनएसएस. सी.एम. दुबे महाविद्यालय के युवा छात्र-छात्राएं सक्रिय रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *