हड़ताल से वापस लौटने पर जनता कांग्रेस नेताओं ने जताई खुशी..सिम्स.डीन,एमएस का किया स्वागत.. बताया..बेहतर प्रबंधन से लौटेगी सिम्स की प्रतिष्ठा

बिलासपुर—-सिम्स के नव नियुक्त डीन और MS से मुलाकात कर जोगी कांग्रेस के नेताओं ने हड़ताली कर्मचारियों के हित में उठाए गए कदम का स्वागत किया। जिला जोगी कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत तिवारी की अगुवाई में प्रतिनिधि मंडल ने जनहित में हडताल खत्म करवाने पर खुशी भी जाहिर की। जोगी कांग्रेस नेताओं ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी ने जनहित को ध्यान में रखते हुए ही सिम्स की बुनियाद को रखा। हमें उम्मीद है कि प्रबंधन सिम्स प्रबंधन जनहित को केन्द्र में रखकर ही काम करेगा।
 
                    जनता कांग्रेस नेताओं ने सिम्स के नवनियुक्त डीन और एमएस से मुलाकात कर हड़ताली कर्मचारियों के हित में उठाए गए कदम को लेकर खुशी जाहिर की। प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात के दौरान डीन और एमएस का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। जनता कांग्रेस नेता विक्रांत तिवारी ने बताया कि छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री स्व.अजित जोगी ने  बिलासपुर और आस पास की स्वास्थ व्यवस्था को सुचारू रूप से पुख्ता करने…बिलासपुर स्थित धर्म अस्पताल को मेडिकल कॉलेज सिम्स में तब्दील किया। समय के साथ देखने में आया कि विगत कुछ वर्षों से और मुख्य रूप से करोना काल के बाद से बिलासपुर और आस पास की आम जनता का भरोसा सिम्स से खत्म होता दिखाई दे रहा था।
 
          करोना काल में प्रबंधन की चूक से आम लोगों को हो रही दिक्कत हो या 59 दिनों से चली आ रही कर्मचारियों की हड़ताल…आम जनता का सिम्स प्रति विश्वास घटा है। व्यवस्था को ठीक करने स्वास्थ मंत्री टी एस सिंहदेव जी ने महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए सिम्स प्रबंधन में बड़े बदलाव किए। निश्चित रूप से बहुत बड़ा कदम है।बदलाव के बाद करीब दो महीने से हड़ताल से वापस लौट आए हैं। निश्चित रूप से सिम्स प्रबंधन ने बेहतर काम किया।
 
               जोगी कांग्रेस जिला अध्यक्ष विक्रान्त तिवारी ने बताया कि, प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री रहते हुए स्व अजित जोगी ने मरवाही से लेकर जांजगीर चांपा तक और कोरबा पाली से लेकर पूरे संभाग के आम जन मानस को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने धर्मस्पताल को मेडिकल कॉलेज में बदला। लेकिन प्रबंधन कि नाकामियों की वजह से सिम्स की व्यस्था जन विरोधी होती गयी। पिछले 59 दिनों से 318 कर्मचारियों का हड़ताल पर जाना आम जन के लिए मौत के मुहाने में झोकने जैसा था। इसमें सबसे बड़ी विफलता प्रबंधन की थी । नए डीन का निर्णय स्वागतयोग्य है। हड़तालियों की मांग को प्राथमिकता से लेते हुए काम पर लौटने को मजबूर किया।
       
     विक्रान्त ने कहा की प्रबंधन का 2 दिनों में 2 माह की हड़ताल खत्म करवाना जनहित में लिया गया सरहानीय कदम है। डीन के के सहारे से जोगी कांग्रेस नेताओं ने आग्रह किया कि हमें पूरा विश्वास है कि सिम्स को स्वर्गीय जोगी की भावनाओं को ध्यान में रखकर संचालित किया जाएगा। यदि ऐसा किया गया तो सिम्स की खोयी प्रतिष्ठा फिर स्थापित हो जाएगी।
 
                   इस दौरान जनता काँग्रेस ने नवनियुक्त डीन से निवेदन किया कि हमें पूरा विश्वास है कि मरीजों के अब परिजनों से बेअदबी नहीं होगी। स्वास्थ्य सुविधा को लेकर बेहतर से बेहतर प्रयास किया जाएगा। प्रबंधन और डीन से मुलाकात के दौरान जनता कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल में विक्रांत तिवार के अलावा सुधीर गोधरे,विजय सिंह राजपूत,राहुल गढेवाल,  रवि साहू, प्रियांश सोनी, दीपक राही,सुनील वर्मा, सुब्रत जाना, राहुल, रवि गौस्वामी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

Tags:, , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *