CMO को नोटिस,कलेक्टर की दो टूक.. किसी भी तरह की लापरवाही नहीं चलेगी

जशपुर।कलेक्टर महादेव कावरे ने 24 जून 2021 को पत्थलगांव और फरसाबहार विकासखंड के जनपद पंचायत कार्यालय में वन विभाग, राजस्व विभाग, पटवारी, सचिव सहित गौठान के नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर विकासखंड में कोविड-19 टीकाकरण, गोधन न्याय योजना, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना की समीक्षा की। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के.एस.मण्डावी, एसडीएम पत्थलगांव श्री योगेन्द्र श्रीवास, एसडीएम फरसाबहार चेतन साहू संबंधित विकासखंड के जनपद सीईओ श्री कछवाहा, सी.एल.सरल तहसीलदार सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना के अंतर्गत विकासखंडों में खाद उत्पादन, निर्मित्त खाद की छनाई, पैकेजिंग की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। और धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए ग्राम त्रिसोठ, फरसाटोली, घरजिबथान गोठान के नोडल अधिकारी और कोतबा और पत्थलगांव नगरीय निकाय के सीएमओ को कारण बताओे नोटिश जारी करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कार्य की धीमी प्रगति पर किसी भी तरह की लापरवाही नहीं चलेगी। समूह के माध्यम से खाद छनाई के कार्य में गति लाए। फरसाबहार विकासखंड के डूमरिया, बांसाझाल, हलटोली के गोठान के नोडल अधिकारियों को भी खाद बनाने के धीमी गति पर कारण बताओं नोटिश जारी करने के निर्देश दिए है।

उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना राज्य षासन महत्वाकांक्षी योजना है। और सभी गोठानों में समूह को सक्रिय करके वर्मी टांका में गोबर भरने और खाद बनाने की प्रक्रिया तीव्र गति से करने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना की जानकारी देते हुए बताया कि किसानों द्वारा  अपने खेत में धान की फसल के स्थान पर इमारती अथवा फलदार पौधे लगाने पर उन्हें 3 वर्षो तक 10 हजार प्रति एकड़ प्रोत्साहन राषि प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यहां लीची, नाषपाती, सेव, आम, काजू सहित अन्य बागवानी फसलों के उत्पादन की अच्छी संभावना है।

कलेक्टर ने विकासखंड में कोविड-19 टीकाकरण की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी वर्ग के लोगों के साथ-साथ 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का अनिवार्य रूप से टीकाकरण किया जाना उन्होंने कहा कि लोगों में टीका के प्रति फैले भ्रांतियों को दूर करें तथा उन्हें टीका से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी दें। कलेक्टर ने गांव के सरपंच सचिव, ग्राम पंचायत, कोटवार, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका और मितानीन, अधीक्षिका का भी टीकाकरण में सहयोग लेने के लिए कहा है ताकि छूटे हुए लोगों को शत् प्रतिशत् टीकाकरण किया जा सके।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री के.एस.मण्डावी ने मनरेगा के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि बरसात खत्म होने के पूर्व सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा के तहत् अधिक से अधिक कार्य स्वीकृत कराकर कार्य किया जाना है। इसके लिए उन्होंने जिन ग्राम पंचायतों में कुंआ, निर्माण, डबरी निर्माण, तालाब गहरीकरण, भूमि समतलीकरण, तटबंधान, चेकडेम निर्माण कार्य की आवश्यकता है इसके लिए कार्ययोजना बनाकर शीघ्र स्वीकृति लें के निर्देश दिए है ताकि बरसात खत्म होने के पश्चात् कार्य प्रारंभ किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *