हत्या कर भिखारियों के गैंग में शामिल..आरोपी पति गिरफ्तार..हुलिया बदल बना था भिखारी

बिलासपुर— पत्नी की हत्या कर फरार आरोपी पति को पुलिस ने धरदबोचा है। घटना के बाद आरोपी को पुलिस लगातार तलाश रही थी। पुलिस के अनुसार आरोपी हत्या के बाद वेष बदलने के साथ लगातार छिपने का स्थान भी बदल रहा था। अन्त में आरोपी को बिलासपुर में ही भिखारियों के बीच से गिरफ्तार किया गया।

               सिरगिट्टी पुलिस के अनुसार पथरियापार हरदीटाल निवासी गंगादास वैष्णव तीन दिन पहले 10 जून की रात्रि को पत्नी पर जानलेवा हमला कर दिया।  पत्नी को लहुलुहान कर आरोपी फरार हो गया। घटना के कुछ घण्टे बाद आरोपी का बेटा चन्द्रकुमार काम धाम से घर लौटा तो मां को गंभीर घायल अवस्था में पाया। चन्द्र कुमार ने तत्काल एम्बुलेन्स से सिम्स अस्पताल में भर्ती कराया। जांच पड़ताल के दौरान डाक्टरों की टीम ने अनुसुइया को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद चन्द्रकुमार ने सिरगिट्टी थाना पहुंचर मामले की जानकारी दी। अपराध भी दर्ज कराया।

                 चन्द्रुकुमार ने बताया कि पिता और मां के बीच हमेशा आपस में झगड़ते थे। उसके पिता आदतन शराबी हैं । घटना दिनांक 10 जून को पिता गंगादास रोज की तरह शराब के नशे में घर पहुंचा। हमेशा की तरह मां से बहस हुई। और तैश में आकर पिता ने भारी भरकम वस्तु से हमला कर दिया। सिर पर चोट लगने के कारण मां जमीन पर गिर गयी। सिम्स पहुंचने से पहले मां की मौत हो गयी।

                      चन्द्रकुमार की शिकायत पर गंगादास के खिलाफ 302 का अपराध दर्ज किया गया। पंचनामा कार्रवाई के बाद मृतिका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। डाक्टरों की टीम ने बताया अनुसुइया की मौत गहरी चोट और खून निकलने के बाद हृदयगति रूपने से हुई है। 

                  पुलिस के अनुसार अपराध दर्ज होने के बाद आरोपी की पता साजी शुरू हुई। टीम ने जांजगीर, बलौदा बाजार, बिलासपुर जिले के अलग अलग 11 स्थानों में छापामार कार्रवाई की। लेकिन आरोपी हर बार बच निकला। इसी दौरान मुखबीर से जानकारी मिली कि आरोपी इस समय बिलासपुर में भिखारियों के बीच हुलिया बदलकर घूम रहा है।

            जानकारी मिलते ही पुलिस टीम ने तत्परता दिखाते हुए आरोपी गंगादास वैष्णव को भिखारियों के बीच से ढूंढ निकाला। आरोपी को जरूरी कार्रवाई के बाद 302 का आरोपी मानते हुए न्यायाकि रिमाण्ड पर जेल भेज दिया गया है।

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *